मुख्यमंत्री जी खुद लैपटॉप चलाना नहीं जानते इसलिए युवाओं को भी नहीं दिया- CM योगी पर अखिलेश यादव का तंज़

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में चीजों को उद्योगपतियों के हाथ में दिया जा रहा है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव (फोटो सोर्स – पीटीआई)

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अगले साल होने वाले चुनाव के लिए तैयारी शुरू कर दी है। अखिलेश यादव ने कहा, ‘यूपी की जनता हो सकता है कि समाजवादी पार्टी के लोगों को 400 सीटें पर जीत दिलवा दे। जब बीजेपी लोगों को गुमराह करके 300 सीटें जीत सकती है तो हम तो सच की राजनीति कर रहे हैं। बड़े दलों से गठबंधन का मेरा अनुभव ठीक नहीं रहा तो साफ है कि इस बार बड़े दलों से कोई गठबंधन नहीं होगा।’

सरकार ने पूरा नहीं किया वायदा: टीवी शो ‘नवभारत नवनिर्माण मंच’ पर अखिलेश यादव ने कहा, ‘साढ़े चार साल में सरकार ने सिर्फ नाम ही बदले हैं। समाजवादी पार्टी नवनिर्माण ही होगा। यूपी की खुशहाली के लिए होगा, युवाओं को रोजगार देने के लिए होगा। हमारे सीएम कह रहे हैं कि टेबलेट देंगे। साढ़े चार साल तक आपने कौन-सी टेबलेट दी? आपने घोषणापत्र में कहा था कि युवाओं को लैपटॉप देंगे और फ्री डेटा देंगे, लेकिन मुख्यमंत्री जी ने किसी को लैपटॉप नहीं दिया क्योंकि वो खुद लैपटॉप चलाना नहीं जानते हैं।’

इस बीच एंकर नाविका कुमार पूर्व सीएम से पूछती हैं, ‘आप कह रहे हैं कि केंद्र सरकार की किसी योजना का लाभ लोगों को नहीं मिला। आपको सिर्फ आधा खाली गिलास ही दिख रहा है। ऐसा क्यों हो रहा है?’ अखिलेश यादव इसके जवाब में कहते हैं, ‘आप मुझे मत बताइए कि एक सरकार जाएगी तो दूसरी आएगी। योगी सरकार ने सभी कामों को रोक दिया, रिवर फ्रंट को रोक दिया गया। मुझे खुशी है इस बात की कि कुछ प्रोजेक्ट टाइम और पैसा बढ़े बिना ही पूरे हो गए।’

अखिलेश यादव का जवाब: नाविका कुमार कहती हैं, ‘मॉल चलाना सरकार का काम है?’ अखिलेश यादव मुस्कुराते हुए कहते हैं, ‘अगर आप सब चीजें उद्योगपतियों को दे देंगे तो गरीब का क्या होगा। किसानों के लिए तीन कानून लाए और किसान ही उसका विरोध कर रहे हैं। प्राइवेट कंपनियों के आने से गरीबों को आरक्षण कौन देगा? एक फैसले से कंपनी सरकार बन गई थी। ये सरकार की चीजों को कंपनियों के हाथों में दे रहे हैं।’

इस बीच नाविका कुमार दोबारा अखिलेश से सवाल करती हैं, ‘इससे पहले सर्जिकल स्ट्राइल के सबूत मांगे गए थे और आप फिर से वही बात कर रहे हो।’ अखिलेश यादव इस पर मुस्कुराते हुए कहते हैं, ‘आप मुद्दे को भटका क्यों रही हैं? मैं तो सीधा सा कह रहा हूं कि सरकार ने अपने वायदे पूरे क्यों नहीं किए?’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट