ताज़ा खबर
 

आज जोधपुर कोर्ट में सलमान खान सहित सैफ अली खान, नीलम, सोनाली बेंद्रे और तबु की होगी पेशी

1998 के इस केस में अब सलमान खान सहित सभी आरोपी अपने बयान दर्ज करवाएंगे। यह केस उस समय का है जब सूरज बड़जात्या अपनी फिल्म हम साथ साथ हैं कि शूटिंग कर रहे थे।

Author नई दिल्ली | January 25, 2017 9:38 AM
सलमान खान सहित सैफ अली खान, तबू, नीलम और सोनाली बेंद्रे की होगी पेशी। (Image Source: Instagram)

आज 25 जनवरी 2017 को सलमान खान को काले हिरण के शिकार में जोधपुर कोर्ट में पेश होना है। उनके साथ सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे और सैफ अली खान को भी कोर्ट के सामने पेश होने के आदेश दिए गए हैं। इसके अलावा दुष्यंत सिंह को भी कोर्ट ने पेश होने का आदेश दिया है। पिछले हफ्ते जोधपुर कोर्ट ने आर्म्स एक्ट केस में सलमान को बरी कर दिया था। यह मामला 18 साल पहले का है जब एक काले हिरण का शिकार हुआ था।

इस मामले में अभियोजन पक्ष पहले ही अपने बयान कोर्ट में दर्ज करवा चुका है। 1998 के इस केस में अब सलमान खान सहित सभी आरोपी अपने बयान दर्ज करवाएंगे। यह केस उस समय का है जब सूरज बड़जात्या अपनी फिल्म हम साथ साथ हैं कि शूटिंग कर रहे थे। कनकानी गांव में सलमान खान एक्टर्स सैफ अली खान, नीलम, तब्बू, सोनाली बेंद्रे को लेकर शिकार पर गए थे। जहां उन्होंने दो काले हिरण का शिकार किया था। स्थानीय बिश्नोई समुदाय के विरोध पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया। इस मामले में एक्टर सहित एक स्थानीय दुष्यंत सिंह भी आरोपी है।

गौरतलब है कि राजस्थान उच्च न्यायालय ने 25 जुलाई को दिये गये फैसले में भवाद और मथानिया में चिंकारा के शिकार संबंधी दो मामलों में सजा के खिलाफ सलमान की याचिका को स्वीकार कर उन्हे दोनों मामलों में बरी कर दिया था। इसके बाद राजस्थान के संसदीय कार्य एवं विधि मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक के बाद एक प्रश्न के जवाब में कहा था कि सरकार सलमान खान के मामले में गुण अवगुण पर अवलोकन कर रहीं है और सरकार ने न्यायालय के फैसले को चुनौती देने का मन बना लिया है। इसके बाद राजस्थान सरकार ने 18 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

सलमान खान के खिलाफ 26 और 27 सितंबर, 1998 में भवाद गांव में दो चिंकारा और 28 और 29 सितंबर, 1998 में मथानिया (घोड़ा फार्म) में एक चिंकारा के शिकार के संबंध में वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धारा 51 के तहत मामले दर्ज किए गए थे। निचली अदालत (सीजेएम) ने सलमान खान को दोनों मामलों में दोषी ठहराते हुए 17 फरवरी 2006 को एक साल और 10 अप्रैल, 2006 को पांच साल के कारावास की सजा सुनाई थी।

सलमान खान को 18 साल पुराने आर्म्स एक्ट मामले में जोधपुर कोर्ट ने किया बरी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X