ताज़ा खबर
 

आरके स्टूडियो के सिल्वर जुबली में ऐसे सजी थी महफिल, गेट पर राज कपूर खुद मेहमानों का कर रहे थे वेलकम

स्टूडियो के 25 साल होने पर राज कपूर ने बॉलीवुड के कई सितारों को पार्टी दी थी। इस पार्टी में निरूपा रॉय, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, लता मंगेशकर, राजेश खन्ना, डिंपल कपाड़िया जैसे कई सितारे पहुंचे थे। राज कपूर इस दौरान स्मोकिंग करते हुए भी देखे जा सकते हैं।

सोर्स : यू्ट्यूब

राज कपूर का 70 साल पुराना आर.के स्टूडियो पिछले कुछ दिनों से सुर्खियों में है। दरअसल कपूर खानदान ने इस स्टूडियो को बेचने का फैसला किया है। इस ऐतिहासिक स्टूडियो में राज कपूर अपनी 90 प्रतिशत फिल्मों की शूटिंग किया करते थे। जाहिर है ये कपूर खानदान के सबसे खास धरोहरों में से एक था लेकिन पिछले साल इस स्टूडियो में आग लगने के बाद इस जगह के कई हिस्से बुरी तरह जल गए थे और इसी के बाद ही कपूर फैमिली ने इस स्टूडियो को बेचने का फैसला किया है।

इस खबर के बाद से ही आर.के स्टूडियो का एक वीडियो वायरल हो रहा है। स्टूडियो के 25 साल होने पर राज कपूर ने बॉलीवुड के कई सितारों को पार्टी दी थी। इस पार्टी में निरूपा रॉय, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, लता मंगेशकर, राजेश खन्ना, डिंपल कपाड़िया जैसे कई सितारे पहुंचे थे। राज कपूर इस दौरान स्मोकिंग करते हुए भी देखे जा सकते हैं।

गौरतलब है कि एक साल पहले 16 सितंबर को दो एकड़ में बने इस स्टूडियो में आग लग गई थी, जिसके कुछ हिस्से बुरी तरह जल गए थे। ऋषि कपूर ने उस दौरान ट्वीट भी किया था। एक वजह इस स्टूडियो को बेचने की ये भी है कि इस स्टूडियो में काम बेहद कम हो गया है क्योंकि अंधेरी या फिर गोरेगांव में लोकेशन आसानी से उपलब्ध है और इस स्टूडियो के दूर होने के चलते भी लोग यहां आने से कतराते हैं। अपने दौर में ये स्टूडियो बेहद लोकप्रिय था लेकिन आज इसकी हालत ठीक नहीं है।

गौरतलब है कि आरके फिल्म्स ने बरसात(1949), आवारा(1951), बूट पॉलिश(1954), श्री420 (1955) और जागते रहो (1956) जैसी फिल्मों को प्रोड्यूस किया है। इस स्टूडियो में जिस देश में गंगा बहती है (1970), मेरा नाम जोकर (1970), बॉबी (1973) सत्यम शिवम सुंदरम (1978), प्रेम रोग (1982) और राम तेरी गंगा मैली (1985) जैसी फिल्मों का निर्माण हुआ है। फिल्म बॉबी के साथ ही ऋषि कपूर और डिंपल कपाड़िया ने अपने फिल्मी करियर की शुरूआत की थी।


https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App