ताज़ा खबर
 

संबित पात्रा गवर्नर और लाट साहब नहीं, अर्नब गोस्वामी मेरी आवाज बढ़वाइये- Republic टीवी पर भड़क गए पैनलिस्ट

रिपब्लिक टीवी के ट्विटर अकाउंट से डिबेट का एक क्लिप सामने आया है जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा कहते हैं- 'पालघर में साधुओं की हत्या के दिन उस जगह NCP...'

बीजेपी नेता संबित पात्रा।

रिपब्लिक भारत में अर्नब गोस्वामी के डिबेट शो ‘पूछता है भारत’ में बीजेपी नेता और शिवसेना नेता के बीच बहस छिड़ गई। इस टक्कर के बीच पालघर मामले में बीजेपी नेता संबित पात्रा ने खुलासा करते हुए बताया कि पालघर घटना के दौरान एक NCP नेता भी वहां मौजूद थे। उनके सामने साधुओं की लिंचिंग हुई। इस पर विपक्ष में बैठे पैनलिस्ट ने बीजेपी नेता को टोकने की कोशिश की वहीं अर्नब गोस्वामी से भड़कते हुए कहा कि अर्नब गोस्वामी मेरी आवाज बढ़ाइए।

रिपब्लिक टीवी के ट्विटर अकाउंट से डिबेट का एक क्लिप सामने आया है जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा कहते हैं- ‘पालघर में साधुओं की हत्या के दिन उस जगह NCP नेता काशीनाथ चौधरी के साथ CPM के तीन नेता मौजूद थे, साधुओं की निर्मम हत्या एक सोची समझी साजिश के तहत राजनीतिक षड्यंत्र है।’

पात्रा कहते हैं- ‘मुझे अफसोस हो रहा है कि इतने महत्वपूर्ण विषय पर इन लोगों का आचरण देखिए। दो साधु पहले पुलिस से, वह पुलिस से गुहार लगा रहे थे। वहां कोई एक या दो पुलिस नहीं थी। 15-दर्जन पुलिस थी। उऩ्होंने साधुओं को धक्का मार दिया उस क्राउड की तरफ जिन्होंने लिंचिंग की। पुलिस का व्यवहार देखिए। मैं यहां बड़ा खुलासा करता हूं-क्या आप जानते हैं यहां NCP का बड़ा नेता काशीनाथ चौधरी मौजूद था। जो जिले का चेयरमैन है और जो होम मिनिस्टर अनिल देशमुख का खास अत्यंत नजदीक आदमी है।’

बीजेपी नेता ने कहा- ‘वो काशीनाथ चौधरी वहां मौजूद था। सीपीएम के तीन नेता वहां मौजूद थे। विष्णु पात्रा, सुभाष भावर और धर्मा भावर, तो ये जो सरकार चल रही है वहां पर, अगाड़ी पिछाड़ी की सरकार, इनकी ये साजिश थी। साजिश के तहत साधुओं की हत्या की गई है। इसलिए ये सीबीआई से दूर भागना चाहते हैं। शर्म भी नहीं आ रही है इनको।’

इस पर पैनलिस्ट ने चिल्लाते हुए कहा कि ‘संबित जी 2020 में इस साल उत्तर प्रदेश में 9 साधुओं की हत्या हुई है। ये संबित पात्रा गवर्नर लाट साहब नहीं है। हमारी आवाज बढ़ाओ। अर्नब जी हमारी आवाज उठवाइए, बढ़वाइए आवाज हमारी। आप योगी सरकार को बर्खास्त करो।’

अर्नब गोस्वामी की डिबेट को देख कर सोशल मीडिया पर कई लोग कहते दिखे- ‘अर्णब जी, आपकी डिबेट में बिना अर्थ के बहुत भीड़ होती है, कृपया अधिक से अधिक 3-4 अच्छे लोगों को बुलाएं। जिन्हें बात करने की बुद्धि हो। डिबेट मछली बाजार की तरह लगती है। ऐसे में धीरे-धीरे जनता देखना बंद कर देगी।’ एक यूजर बोला- ‘#महाराष्ट्र सरकार माफिया सरकार बन चुकी है गुंडा सरकार। ये पुलिस है या गुंडे? #देश कभी बर्दाश्त नही करेगा। इनके पाप का घड़ा भर चुका है राष्ट्रपति शासन लागू हो जल्द से जल्द।’

उज्वल कुमार नाम के यूजर ने कहा- ‘अर्नब का बीजेपी के लिए धर्म के नाम पर वोट मांगना फिर से चालू। इस तरह की नफ़रत और जहर उगलने वाले चैनल से हमेशा दूर रहने की कोशिश करें। ये चैनल कभी भी अपने आका, मोदी सरकार से सवाल पूछने की हिम्मत नहीं जुटा पाता है।’ सोनी द्विवेदी नाम के यूजर  ने कहा- ‘उद्धव ठाकरे को यह स्वीकार करना होगा की उन्होंने आतंकवादियों के साथ सरकार बनाई है। क्योंकि आतंकियों पर आंसू बहाने वाले आतंकी ही होते है। वह लोग साधुओं को न्याय क्या दिलवाएंगे।’

Next Stories
1 हिंदू-मुस्लिम की शादी लव जिहाद है तो शाहरुख, आमिर, सैफ और हम सबको फांसी चढ़ा दो- बोले बॉलीवुड एक्टर; आने लगे ऐसे कमेंट
2 वर्ल्ड चैंपियन किंग कॉन्ग को चटा दी थी धूल, 100 से ज्यादा फिल्में की; ‘हनुमान’ के किरदार से घर-घर चर्चित हो गए थे दारा सिंह
3 गौरी खान ने की अपने घर की इंटीरियर डिजाइनिंग; शाहरुख खान दे रहे दिल्ली के इस शानदार घर में किन्हीं दो फैन्स को आने का मौका!
ये पढ़ा क्या?
X