’14 दिन से वो किसान ठंड में..’ पैनलिस्ट ने उल्टा पूछ लिया अर्नब गोस्वामी से ही सवाल, तो झट से बोल पड़े एंकर- इसका तो मैं जवाब दूंगा..

एक महिला पैनलिस्ट तो उल्टा अर्नब गोस्वामी से ही सवाल करने लगीं। अर्नब ने डिबेट की शुरुआत में कहा- 'ये क्या तरीका है भाई, नूपुर और रंजिता डिबेट में हैं..

Republic Bharat, Poochta Hai Bharat, Live Debate, Panelist Blast On Arnab Goswami,अर्नब गोस्वामी से ही उल्टा सवाल करने लगीं पूछता है भारत डिबट शो में आईं पैनलिस्ट

अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक भारत में शो पूछता है भारत के दौरान एक बार फिर से किसान मुद्दे पर तगड़ी बहस छिड़ती दिखी। इस बीच दो महिला पैनलिस्ट आपस में भिड़ गईं। तो वहीं एक महिला पैनलिस्ट तो उल्टा अर्नब गोस्वामी से ही सवाल करने लगीं। अर्नब ने डिबेट की शुरुआत में कहा- ‘ये क्या तरीका है भाई, नूपुर और रंजिता डिबेट में हैं। आप लोग दोनों तरफ से ऐसे फाइटिंग करते हैं, कांग्रेस बीजेपी की क्या जरूरत है। खैर मैं हंसी मजाक में बोल रहा हूं।’

अर्नब आगे कहते हैं- ‘आपकी मांग और आपका तरीका दो चीजें हैं। आप की मांग सही हो सकती है, लेकिन तरीका- दिल्ली बंद कर देंगे, हर रास्ते को जाम कर देंगे, मंत्रियों के घर को घेरेंगे। अरे भाई क्या है ये? मेरी भी मांग हो सकती है तो क्या इसके लिए मैं अराजकता फैला दूं? तो मुझे जेल में रखा जाएगा? ये क्या बात है रंजीता जी? नूपुर जवाब देंगी।’

तभी रंजीता लाइव डिबेट में कहती हैं कि अर्नब जी आपसे सवाल करना चाहती हूं, इस पर अर्नब कहते हैं मैं क्यों जवाब दूं? लेकिन रंजीता फिर भी सवाल करती हैं- ‘आज ये हालात देश के बनाए किसने हैं? 14 दिन हो गए किसान ठंड में ठिठुर रहे हैं।’ रंजीता के इस सवाल पर तुरंत लपकते हुए अर्नब गोस्वामी कहते हैं- इसका तो मैं जवाब दूंगा। वाह वाह रंजीता जी, पूछता है भारत।’

रंजीता इस बीच लगातार बोलती रहती हैं। तो अर्नब कहते हैं- ‘रंजीता जी ऐसा नहीं चलेगा कि आप सवाल पूछकर भाग जाएंगी। अब मेरा जवाब सुनिए।’ लेकिन रंजीता बोलती रहती हैं और किसी की नहीं सुनतीं। अर्नब कहते हैं कि आप सवाल पूछ रही हैं या भाषण दे रही हैं?

इधर दूसरी पैनलिस्ट नूपुर शर्मा कहती हैं- ‘जब इनका चिल्लाना बंद हो जाएगा तो मैं इनका जवाब दूंगी।’ रंजीता को इसके बाद स्क्रीन आउट कर दिया जाता है। बाद में नूपुर जवाब में कहती हैं-‘मेरे ननिहाल में मेरे मामाजी भी किसान ही हैं। अगर किसानों के दर्द को लेकर, ये महिला जो चिल्ला चिल्ला कर महिलाओ का विषय भी जोड़ रही थीं। दुनिया भर के अंटशंट मुद्दे जोड़ दिए। और कह रही हैं कि वह किसानों के दर्द पर बात कर रही हैं तो मैं माफी चाहती हूं कि इनसे ज्यादा राजनीतिकरण कोई नहीं कर सकता।’

Next Stories
1 मां दुर्गा ने मुझे चुना है- मंदिर बनवाने का ऐलान करते हुए बोलीं कंगना रनौत
2 ‘किसने किसानों के आंदोलन को सियासी रंग दिया’, रजत शर्मा ने पूछा सवाल; मिलने लगे ऐसे जवाब
3 आजतक की डिबेट में बोले कांग्रेस नेता – अडानी अंबानी, हमारे समय पीएम के सामने हाथ जोड़ते थे, अब पीएम की पीठ पर हाथ रखते हैं, मिला ये जवाब
यह पढ़ा क्या?
X