लड़कियों के बॉलीवुड में कदम रखने के खिलाफ था कपूर परिवार? कपिल के शो में रणधीर कपूर ने किया था खुलासा

कपिल शर्मा के शो पर रणधीर कपूर ने बताया कि कपूर परिवार के बारे में बनी धारणा कि वे लड़कियों के इंडस्ट्री में आने के खिलाफ थे, गलत है।

randhir kapoor, karishma kapoor, the kapil sharma show
बॉलीवुड एक्टर रणधीर कपूर और उनकी बेटी करिश्मा कपूर (Photo-Karishma Kapoor/Instagram)

म कमाया। उनके बाद ऋषि कपूर, रणधीर कपूर व राजीव कपूर ने भी बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाई। लेकिन करिश्मा कपूर से पहले परिवार की किसी भी बेटी ने फिल्मों में कदम नहीं रखा था, जिसे लेकर यह भी कहा जाने लगा था कि कपूर परिवार की बेटियां या बहुएं फिल्मों में काम नहीं करती हैं। हालांकि कपिल के शो में रणधीर कपूर ने इन बातों को केवल अफवाह करार दिया।

दरअसल, कपिल शर्मा ने अपने शो में रणधीर कपूर से सवाल किया था, “कपूर परिवार बॉलीवुड पर राज करता आ रहा है। लेकिन हमेशा लड़के ही इंडस्ट्री में आए, लड़कियां कभी इंडस्ट्री में नहीं आईं। तो क्या आप इन बातों के खिलाफ थे, क्योंकि बबीता मैम ने भी शादी के बाद फिल्में छोड़ दी थीं। हालांकि शुरुआत भी आपकी तरफ से ही हुई थी।”

इसका जवाब देते हुए रणधीर कपूर ने कहा, “असल में यह भ्रम है और लोगों का ख्याल है कि हम लड़कियों के खिलाफ थे या हीरो-हिरोईन के खिलाफ हैं। अगर देखा जाए तो मेरी चाची गीता बाली भी एक्ट्रेस थीं, मेरी चाची जेनिफर केंडल भी एक्ट्रेस थीं। मेरी पत्नी बबीता भी एक्ट्रेस थीं। ऋषि कपूर की पत्नी नीतू सिंह भी एक्ट्रेस थीं।”

रणधीर कपूर ने अपने बयान में आगे कहा, “अगर हम एक्ट्रेस के खिलाफ होते और यह सोचते की ये बुरी चीजें हैं तो हम खुद ही शादी नहीं करते। वहीं जब मेरे बच्चों ने कहा कि हम इंडस्ट्री में काम करना चाहते हैं तो मैंने भी बोला कि जरूर करो, यह तो हमारा खानदानी पेशा है। जो आप पूछ रहे हैं कि बबीता को शादी के बाद मैंने घर में रख लिया था, तो भाई बीवी को घर में रखेंगे ना, बाहर थोड़ी ना भगाएंगे।”

बता दें कि रणधीर कपूर के अलावा एक इंटरव्यू के दौरान करिश्मा कपूर से भी यह सवाल किया गया था। इसके जवाब में करिश्मा कपूर ने कहा था, “मेरे पापा की बहनों को असल में इंडस्ट्री में कोई रुचि नहीं थी। मां और नीतू आंटी शादी के बाद अपना परिवार संभालना चाहती थीं। ऐसा नहीं है कि कपूर परिवार में बहू-बेटियों के इंडस्ट्री में कदम रखने पर रोक थी।”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट