ताज़ा खबर
 

Ramayan: श्रीराम के अनन्य भक्त हैं रामायण के रावण अरविंद त्रिवेदी, टीवी पर प्रभु को देख भर आईं आंखें

त्रिवेदी काफी बुजुर्ग दिख रहे हैं। अब ज्यादातर समय घर पर ही रहते हैं। उनके चेहरे में इतना बदलाव आ चुका है कि कई बार उन्हें पहचानना भी मुश्किल होता है। रामायण में रावण के रूप में दिखने वाले त्रिवेदी का चौड़ा माथा और चेहरे पर गुस्से के भाव ऐसे होते थे लेकिन रियल में वे काफी उदार हृदय के दिखते हैं। वह राम के अनन्य भक्त हैं।

रियल लाइफ में श्रीराम के अनन्य भक्त हैं रावण अरविंद त्रिवेदी

लॉकडाउन की वजह से रामायण के जरिए टीवी पर 80 का दशक फिर से लौट आया है। इसी के साथ इस शो के किरदार भी इन दिनों चर्चा में हैं। रामायण लगातार सोशल मीडिया पर ट्रेंड में हैं। अरुण गोविल और दीपिका के साथ इन दिनों रामानंद सागर की रामायण के रावण भी खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं। टीवी पर सीता का हरण कर विश्व भर में लोकप्रियता बटोरने वाले रावण यानी अरविंद त्रिवेदी रियल लाइफ में श्रीराम के अनन्य भक्त हैं। इस बात का अंदाजा उनके एक टिकटॉक वीडियो के जरिए लगाया जा सकता है। जी हां, सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है जिसमें रावण टीवी पर श्रीराम के बचपन को देख मंत्रमुग्ध नजर आ रहे हैं।

वीडियो में 81 साल के त्रिवेदी काफी बदले हुए दिख रहे हैं। देखकर लगता ही नहीं कि ये वही रावण हैं। उनके चेहरे में इतना बदलाव आ चुका है कि कई बार उन्हें पहचानना भी मुश्किल होता है। रामायण में रावण के रूप में दिखने वाले त्रिवेदी का चौड़ा माथा और चेहरे पर गुस्से के भाव ऐसे होते थे लेकिन रियल में वे काफी उदार हृदय के दिखते हैं। रामायरण में रावण बन अरविंद को इस कदर सफलता मिली कि लोग उन्हें असल जिंदगी में भी ऐसी प्रवत्ति का इंसान समझने लगे थे। ठीक वैसे जैसे अरुण गोविल को लोग रियल में भी हाथ जोड़ प्रणाम करने लगे थे। हालांकि वह इस भूमिका के लिए तैयार नहीं थे।

@_hardik_sharma_##ramayan ##foryou ##tiktokindia @tiktok♬ ओरिजिनल साउंड – g…shyam

एक इंटरव्यू के दौरान अरविंद ने बयां किया था कि कि वे रामायण में केवट का रोल करना चाहते थे लेकिन रामानंद सागर ने उनसे रावण बनने को कहा। अरविंद त्रिवेदी ने कहा- ‘रामानंद सागर उनकी चाल ढाल देखकर समझ गए थे कि वही उनके रावण बनने योग्य है। उन्हें रामायण के लिए ऐसा रावण चाहिए जिसमें बुद्धि-बल हो और मुख पर तेज हो।’

दिलचस्प ये है कि रामायण में राम का विलन बनने के बाद उन्हें कई फिल्मों में खलनायक की भूमिका करने के ऑफर मिले थे। उन्होंने रामायण के अलावा उन्होंने Brahmrishi Vishwamitra में भी काम किया है। हिंदी फिल्म Vikram Aur Betal सहित 6 गुजराती फिल्में भी की हैं। मध्यप्रदेश के उज्जैन में 8 नवंबर 1938 को जन्में अरविंद त्रिवेजी फिलहाल मुंबई में रहते हैं।

@ishwarparmar6♬ original sound – rinkusingh

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हनुमान से लेकर विभीषण तक, अब दुनिया में नहीं हैं रामायण के ये कलाकार, जानिये…
2 मशहूर कोरियोग्राफर अपनी गर्लफ्रेंड को सलमान खान से मिलने से करता था मना! सना खान ने किया खुलासा
3 रामायण: एक ही कलाकार ने निभाई थी बाली और सुग्रीव दोनों की भूमिका, रोल मिलने के बाद छोड़ दिया था नॉन वेज खाना