ताज़ा खबर
 

महिला शरीर को लेकर राम गोपाल वर्मा ने दिया यह बयान

अमेरिकी पोर्न फिल्मों की अभिनेत्री मिया मालकोवा को लेकर 'गॉड, सेक्स एंड ट्रथ' फिल्म बनाने वाले फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा ने कहा है कि किसी को आकर्षित करने के लिए एक महिला का शरीर सुंदर और ध्यान खींचने वाला होता है।

Author मुंबई | January 18, 2018 6:46 PM
फिल्मकार राम गोपाल वर्मा । (File Photo)

हाल ही में अमेरिकी पोर्न फिल्मों की अभिनेत्री मिया मालकोवा को लेकर ‘गॉड, सेक्स एंड ट्रथ’ फिल्म बनाने वाले फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा ने कहा है कि किसी को आकर्षित करने के लिए एक महिला का शरीर सुंदर और ध्यान खींचने वाला होता है। वर्मा ने फिल्म के पोस्टर के साथ ट्वीट किया, “मैं सच में विश्वास करता हूं कि इस दुनिया में एक औरत के शरीर से ज्यादा सुंदर और याद रखने योग्य कोई जगह नहीं है।” फिल्म की शूटिंग यूरोप में मालकोवा के साथ हुई है। मंगलवार को इसका ट्रेलर लांच हो चुका है। फिल्म 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन रिलीज होगी।

उन्होंने बताया कि वीडियो क्रांतिकारी सेक्स दर्शन पर आधारित है जिसे मालकोवा ने बताया है तथा उन्होंने समझाया है। उन्होंने कहा कि वीडियो में सेक्स के असली मकसद को बताया गया है। वर्मा ने एक विस्तृत रिपोर्ट के माध्यम से कहा कि वीडियो में नग्नता को उभारा गया है और मिया मालकोवा के शरीर के प्रत्येक भाग को अभूतपूर्व रूप से दर्शाया है।

बता दें कि ट्विटर से सात महीने तक दूर रहने के बाद राम गोपाल वर्मा इस माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर हाल ही में लौटे हैं। उन्होंने कहा कि वह इस प्लेटफॉर्म से दूर रहकर ऊब गए थे और बोरियत महसूस करने लगे थे, इसलिए वह लौट आए। वर्मा ने कहा, “मैंने जब ट्वीट करना बंद किया..तो उस समय मैं ट्विटर से ऊब गया था और इससे दूर हो गया और अब मैं ट्विटर से दूर होकर ऊब गया और लौट आया।” यह पूछे जाने पर कि क्या वह फिर से उकसाऊ टिप्पणी करेंगे, क्या यह उनकी खासियत होने जा रहा है तो उन्होंने कहा, “न तो शेर अपने शरीर की धारियों को बदलता है और न सांप अपने जहरीले दांतों को बदलता है और चाहे यह मेरी खासियत हो या न हो, मैं जैसा हूं वैसा जरूर रहूंगा।”

वर्मा ने यह पूछे जाने पर कि उनका पहला ट्वीट क्यों आक्रामक रहा, जिसमें उन्होंने पवन कल्याण को राजनीति में उतरने की चुनौती दी है तो उन्होंने कहा, “मैं चुनौती नहीं दे रहा था, बस सलाह दे रहा था।” वर्मा से जब पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि राजनीति में रजनीकांत और पवन का भविष्य उज्जवल है और पवन का नहीं? तो उन्होंने कहा, “मैंने ऐसा कभी नहीं कहा कि पवन का राजनीति में भविष्य उज्जवल नहीं है। मैंने बस इतना कहा है कि उन्हें रजनीकांत के समान साहस और आत्मविश्वास दिखाना चाहिए।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App