UP में BJP को हराना है तो जिताना किसे है? राकेश टिकैत से पूछ बैठीं न्यूज एंकर, किसान नेता ने दिया ऐसा जवाब

राकेश टिकैत से न्यूज एंकर चित्रा त्रिपाठी ने सवाल किया कि अगर आप यूपी में भाजपा को हराना चाहते हैं तो जिताना किसे चाहते हैं?

Farmer Law, Farmer
किसान नेता राकेश टिकैत (फोटो सोर्स – पीटीआई)

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में किसान बीते कई महीने से दिल्ली के बॉर्डर पर डटे हुए हैं। उनका कहना है कि जब तक सरकार इन कानूनों को वापस नहीं ले लेती है, वह आंदोलन खत्म करने वाले नहीं हैं। किसान आंदोलन को लेकर भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने ‘आज तक’ के ‘दंगल’ शो में भी चर्चा की। यहां उन्होंने यूपी चुनाव से लेकर भाजपा और असदुद्दीन ओवैसी के बारे में भी बातें कीं। इसी बीच न्यूज एंकर ने राकेश टिकैत से पूछ लिया कि वह यूपी में किस दल को जिताना चाहते हैं।

राकेश टिकैत से न्यूज एंकर चित्रा त्रिपाठी ने सवाल किया, “मुजफ्फरनगर की रैली में आप लोग प्रण कर रहे थे कि भाजपा को हराना है। तो वह कौन सी पार्टी है, जिसे आप यूपी में जिताना चाहते हैं?” उनकी इस बात का जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा, “हमें किसी को हराना जिताना नहीं है। हमारे जो खुद के मसले होंगे, उसपर हम जाएंगे। यूपी में बिजली का रेट सबसे महंगा है, फसलों पर बेईमानी होती है।”

राकेश टिकैत ने यूपी की स्थिति का जिक्र करते हुए आगे कहा, “उत्तर प्रदेश में एमएसपी पर फसलों की खरीद नहीं होती है। किसान यहां 40 से 50 क्विंटल धान लेकर लाइन में लगा रहता है, उसका नंबर तक नहीं आता है। तो क्या गुस्सा नहीं आएगा क्या किसानों को। सस्ते में खरीदकर हमसे कौन सी मंडी में बेचा जाता है, हमें भी बताया जाए।”

राकेश टिकैत को बीच में टोकते हुए न्यूज एंकर चित्रा त्रिपाठी ने कहा, “आप नारा लगा रहे थे कि भाजपा को हराना है। मेरा सीधा सा सवाल है। ऐसी कौन सी पार्टी है, जो आपको लगता है कि किसानों के मुद्दे को अच्छे से हल करेगी?” इसका जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा, “हम किसी को नहीं जिता रहे हैं। लोग खुश होंगे तो इसे वोट दे देंगे, लोग खुश होंगे तो दूसरे को वोट दे देंगे।”

राकेश टिकैत ने इस बारे में बात करते हुए आगे कहा, “हमारा मसला फसलों से है। हमारा मसला बिजली से है।” बता दें कि राकेश टिकैत ने डिबेट शो में केंद्र सरकार पर भी जमकर निशाना साधा था और कहा था, “ये तोड़ने का काम करते हैं, हम जोड़ने का काम करते हैं।” इसके अलावा किसान नेता ने न्यूज एंकर पर भी प्रचार करने का आरोप लगाया था।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट