शेर दुबक गया, बैठ गया लेकिन चाल जरूर चलेगा- केंद्र सरकार पर राकेश टिकैत का तंज, ‘मवाली’ कहे जाने पर दिया ये जवाब

राकेश टिकैत ने आज तक को अपना इंटरव्यू दिया, जिसमें उन्होंने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि सरकार की चाशनी मीठी है, लेकिन कोई न कोई चाल जरूर चलेगी।

Modi Government, Minister of Agriculture
Rakesh Tikait (Photo: PTI)

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में किसान बीते कई महीनों से दिल्ली के बॉर्डर पर डटे हुए हैं। उनका कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं की जाती हैं, वह आंदोलन खत्म करने वाले नहीं हैं। वहीं बीते दिन किसान नेता राकेश टिकैत ने आज तक को अपना इंटरव्यू दिया, जिसमें उन्होंने केंद्र सरकार की तुलना शेर से की। हालांकि उन्होंने किसानों को सतर्क रहने के लिए भी कहा और सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि वह कभी भी कोई भी चाल चल सकता है। इसके अलावा राकेश टिकैत ने मवाली कहे जाने पर भी जवाब दिया।

इंटरव्यू में राकेश टिकैत से सवाल किया गया कि पहले आप लोगों को बवाली कहा जाता था कि आप लोग बवाल करते हैं। अब आपको मवाली कहा जा रहा है। इसका जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा, “ये दिल्ली के लोग हैं, चमचमाती कोठियों में रहने वाले लोग हैं। ये जमीन पर नहीं रहते तो उन्हें तो ऐसे ही दिखते हैं।”

राकेश टिकैत ने मीनाक्षी लेखी द्वारा ‘मवाली’ कहे जाने पर रिएक्शन देते हुए आगे कहा, “हमारे घर तो बांस के बने हुए हैं, तो उनके लिए तो हम मवाली ही होंगे। हमने यह पहले ही कहा था कि इन्होंने किसी के कहने से बयान दिया है। ये अपने दिमाग से काम नहीं करते, इनका दिमाग हैक किया हुआ है।”


वहीं जब राकेश टिकैत से सवाल किया गया कि क्या सरकार थोड़ी नर्म पड़ रही है, क्योंकि सुबह बयान आया और शाम तक माफी मांग ली गई? इसके जवाब में किसान नेता ने कहा, “सरकार की चाशनी बहुत मीठी है, लेकिन कोई न कोई चाल जरूर चलेगी।”

राकेश टिकैत ने बयान में केंद्र सरकार की तुलना शेर से की और कहा, “अगर शेर बैठ गया है तो हिरण को यह नहीं सोचना चाहिए कि वह डर गया। बल्कि वह दांव लगा रहा है, क्योंकि अगर बैठ गया तो बच के रहना वह दांव जरूर मारेगा। दिल्ली का शेर अभी चुप है, कोई न कोई हरकत जरूर करेगा।”

राकेश टिकैत ने ग्रामीणों को सतर्क करते हुए कहा, “गांव के लोग तैयार रहें, शेर अभी दुबक गया है लेकिन डरा नहीं है। न वो हारा है और न थका है। डीजल यह कितना भी महंगा कर दें, ट्रैक्टर भरकर खड़े रहेंगे।”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट