सरकार को करोड़ों टैक्स देता हूं- लाइव इंटरव्यू में ‘ब्रोकर’ कहने पर नाराज हो गए राकेश झुनझुनवाला

इंटरव्यू के दौरान उन्हें स्टॉक ब्रोकर कहा गया जिस आप उन्होंने अपनी आपत्ति जताई और कहा कि वो कोई ब्रोकर नहीं हैं बल्कि सरकार को सालाना करोड़ों टैक्स देते हैं।

rakesh jhunjhunwala, narendra modi, rakesh jhunjhunwala narendra modi meet
राकेश झुनझुनवाला को शेयर बाज़ार का बिग बुल कहा जाता है (Photo-Financial Express/File)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शेयर मार्केट के वारेन बफे समझे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला की मुलाकात काफी चर्चित रही। राकेश झुनझुनवाला ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में हिस्सा लिया जहां उनसे पीएम से मुलाकात को लेकर सवाल किए गए। इसी दौरान उन्हें स्टॉक ब्रोकर कहा गया जिस आप उन्होंने अपनी आपत्ति जताई और कहा कि वो कोई ब्रोकर नहीं हैं बल्कि सरकार को सालाना करोड़ों रुपए टैक्स देते हैं।

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में उनसे पूछा गया, ‘आप प्रधानमंत्री से मिले, बहुत सी बातें हुईं, तस्वीरें वायरल हो गईं। एक स्टॉक ब्रोकर प्राइम मिनिस्टर से क्यों मिला?’ स्टॉक ब्रोकर कहे जाने पर आपत्ति जताते हुए राकेश झुनझुनवाला ने कहा, ‘मैम, पहले मुझे एक बात कहने दीजिए। मैं हर साल सरकार को 15 लाख डॉलर (11.25 करोड़ रुपए) देता हूं। मैं कोई ब्रोकर नहीं हूं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘आपने कहा कि मैं प्रधानमंत्री से क्यों मिला? तो मुझे नहीं पता वो क्यों मिले, आपको उनसे ही पूछना चाहिए।’

इसी दौरान उन्होंने कहा कि वो मोदी और बीजेपी के समर्थक हैं। अर्थव्यवस्था को लेकर उनका कहना था कि ये जल्द ही आगे बढ़ने वाली है। वो बोले, ‘हमारा टाइम आएगा लेकिन मेरा मानना है कि हमारा टाइम आ चुका है। वो कहते हैं न हिंदी फिल्म में कि मुहूर्त का समय आ गया है, कन्या को लाइए तो हिंदुस्तान का मुहूर्त हो गया है। मैं अभी भी बाजार को लेकर बुलिश हूं इसलिए गिरावट को लेकर चिंतित नहीं हूं।’

राकेश झुनझुनवाला का कहना था कि भारत के रिटेल निवेशकों को लंबी अवधि के लिए पैसा लगाना चाहिए क्योंकि गिरावट की संभावना कम है। राकेश झुनझुनवाला से इसी कॉन्क्लेव में यह सवाल पूछा गया कि पीएम मोदी से मुलाकात के दौरान उन्होंने क्या कहा और पीएम ने क्या कहा।

इस सवाल पर राजेश झुनझुनवाला ने कहा, ‘सुहागरात में मैंने बीवी से क्या बात किट ही…ये भी कोई बताने वाली बात है।’ उनके इस जवाब को लेकर सोशल मीडिया पर कई लोगों ने आपत्ति जताई। कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने एक ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री पद की यही गरिमा बच गई है। वहीं आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह ने कहा कि कभी सोचा नहीं था कोई शेयर मार्केट का दलाल पीएम से मुलाकात की तुलना अपनी सुहागरात से करेगा।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट