ताज़ा खबर
 

वह तो सेट पर गाली-गलौज करता है- जब नाना पाटेकर का नाम सुनते ही भड़क गए थे राजकुमार; बात तक नहीं करते थे

साल 1993 में आई उनकी फिल्म 'तिरंगा' से जुड़ा है। इस फिल्म में राजकुमार के साथ नाना पाटेकर भी। हालांकि शुरुआत में राजकुमार नहीं चाहते थे कि नाना इस..

nana patekar, rajkumar, entertainment newsनाना पाटेकर और राजकुमार (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार अपनी डायलॉग डिलीवरी के लिए तो मशहूर थे ही, उससे कहीं ज्यादा अपने अक्खड़ स्वभाव के लिए जाने जाते थे। कोई बात उन्हें पसंद नहीं आती थी तो सबके सामने ही कह दिया करते थे। इस बात की भी परवाह नहीं करते थे कि सामने वाला क्या सोचेगा।

ऐसा ही एक वाकया साल 1993 में आई उनकी फिल्म ‘तिरंगा’ से जुड़ा है। इस फिल्म में राजकुमार के साथ नाना पाटेकर भी। हालांकि शुरुआत में राजकुमार नहीं चाहते थे कि नाना इस फिल्म में उनके साथ हों। उन्होंने तिरंगा के डायरेक्टर-प्रोड्यूसर मेहुल कुमार से साफ-साफ कह भी दिया था।

एक इंटरव्यू के दौरान मेहुल कुमार ने राजकुमार के साथ अपने अनुभव पर बात करते हुए ‘तिरंगा’ से जुड़ा किस्सा साझा किया था। बकौल मेहुल कुमार, ‘तिरंगा’ के लिए राजकुमार का कैरेक्टर फाइनल हो गया था। लेकिन दूसरे कैरैक्टर के नाम पर माथापच्ची जारी थी। इसी दौरान नाना पाटेकर की फिल्म ‘प्रहार’ आई। हालांकि यह फिल्म कुछ खास नहीं कर पाई लेकिन लोगों को नाना की अदाकारी पसंद आई।

‘एक पूरब तो दूसरा पश्चिम’: डायरेक्टर-प्रोड्यूसर मेहुल कुमार ने जब दूसरे कैरेक्टर के लिए फिल्म के एक फाइनेंसर को नाना के नाम का सुझाव दिया तो उन्होंने साफ कहा कि एक ईस्ट है तो दूसरा वेस्ट है। ऐसे में फिल्म अटक जाएगी। फाइनेंसर का इशारा नाना और राजकुमार के स्वभाव की तरफ था। दोनों ही अपने गर्म मिजाज के लिए चर्चित थे। हालांकि इन बातों को दरकिनार करते हुए मेहुल ने नाना पाटेकर को फोन मिला दिया। लेकिन उन्होंने दो टूक जवाब दे दिया कि मैं कमर्शियल फिल्में करता ही नहीं हूं।

नाना पाटेकर ने रख दी शर्त: मेहुल कुमार बताते हैं कि मैंने नाना पाटेकर से कहा कि कम से कम फिल्म की स्क्रिप्ट तो सुन लो। उसके बाद निर्णय लेना। नाना ने यह बात मान ली। मेहुल, नाना पाटेकर के घर गए और उन्हें स्क्रिप्ट पढ़कर सुनाई। नाना को यह पसंद भी आई, लेकिन उन्होंने एक शर्त रख दी। नाना पाटेकर ने कहा कि अगर राजकुमार ने कोई इंटरफेयर किया तो मैं फिल्म छोड़ दूंगा और इसकी जिम्मेदारी आपकी होगी।

नाना पाटेकर का नाम सुनते ही भड़क गए राजकुमार: नाना पाटेकर की रजामंदी के बाद मेहुल कुमार ने उसी दिन रात को राजकुमार को फोन किया और उनसे कहा कि दूसरे कैरेक्टर के लिए नाना को फाइनल कर लिया है। यह सुनते ही राजकुमार भड़क गए। उन्होंने कहा, ‘अरे यार, उसे क्यों फाइनल कर लिया? मैंने सुना है वह सेट पर गाली गलौज कर लेता है।’ एक बार भरी महफिल में राज कपूर पर भड़क गए थे राजकुमार

सेट पर एक दूसरे से नहीं करते थे बात: जब ‘तिरंगा’ की शूटिंग शुरू हुई तो फ़िल्म का पूरा क्रू दोनों को लेकर सतर्क रहता था, क्योंकि उनके स्वभाव से सब परिचित थे। हालांकि राजकुमार और नाना पाटेकर खुद एक दूसरे से बात नहीं करते थे। बकौल मेहुल कुमार, वह दोनों अलग-अलग कुर्सी लेकर खुद दो तरफ बैठते थे। सेट पर कभी दोनों की दोस्ती नहीं हुई।

Next Stories
1 अक्षय की ‘राम सेतु’ के सह निर्माता ने यूनिट में कोरोना संक्रमण पर दी सफाई
2 कोरोना, रमजान और आइपीएल के त्रिकोण में फंसा बॉलीवुड
3 ‘आहें न भरी शिकवे न किए…’
ये पढ़ा क्या?
X