ताज़ा खबर
 

कंगना रनौत और महाराष्ट्र के गवर्नर की मुलाकात को राजदीप सरदेसाई ने बताया फोटो अपॉर्चुनिटी, हुए ट्रोल

एक यूजर ने राजदीप पर निशाना साधते हुए लिखा कि पत्रकार हो कम से कम तथ्यों की जांच कर लेते। लेकिन नहीं। चमचागिरी भी तो करनी है...।

कंगना रनौत और महाराष्ट्र के गवर्नर की मुलाकात को राजदीप सरदेसाई ने फोटो अपॉर्चुनिटी बताया है।

महाराष्ट्र में जारी सियासत के बीच रविवार बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत महाराष्ट्र (Maharashtra) के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) से मुलाकात की। कंगना ने यह मुलाकात अपनी सिक्योरिटी को लेकर की थी। वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने महाराष्ट्र के राज्यपाल संग कंगना की हुई मुलाकात की तस्वीर रीट्वीट करते हुए इसे फोटो अपॉर्चुनिटी बताया है। जिसके बाद वे ट्रोल के निशाने पर आ गए।

राजदीप सरदेसाई ने ट्वीट किया, शानदार फोटो अपॉर्चुनिटी! राजदीप ने आगे लिखा, क्या महाराष्ट्र के गवर्नर ने राज्य में कोविड-19 की स्थितियों को रोकने का प्रयास किया है? गौरतलब बात है कि कंगना जब राज्यपाल के साथ फोटो खींचा रही थी तब उन्होंने चेहरे से मास्क हटा दिया था जिसको लेकर सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने सवाल खड़े किए थे। राज्यपाल से कंगना की मुलाकात के बहाने राजदीप के कोविड -19 पर उठाए सवाल कई यूजर्स को रास नहीं आए और उन्हें ट्रोल करने लगे।

एक यूजर ने लिखा, सर मैंने पिछली बार जांच की थी कि आपके पसंदीदा मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा बुधवार को कोविड-19 की स्थितियों का जायजा लेने के लिए बुलाई गई बैठक को छोड़ दिया था।

एक अन्य ने लिखा, आप जब मुंबई गए थे तो आपको क्वारंटीन नहीं किया गया था। तब आपने गवर्नर से क्यों नहीं बोला कि मुझे क्वारंटीन करो। बड़ी तुम्हें कोविड-19 की चिंता है। बकवास मत किया करो ज्यादा…।

इसके साथ ही एक यूजर ने राजदीप को निशाने पर लेते हुए कहा, तुम्हारी तरह दलाल नहीं है। पूरी दुनिया जानती है कि दलाली से क्या बनाया है। पर तुम कैसे समझ सकते हो कि बिना माई बाप के इंडस्ट्री में संघर्ष कितना करना पड़ता है।वहीं एक यूजर ने लिखा, अगर आपके पास दलाली के बजाय पत्रकारिता थी तो आपको यह सवाल नहीं पूछना चाहिए था।

एक यूजर ने लिखा, पत्रकार हो कम से कम तथ्यों की जांच कर लेते। लेकिन नहीं। चमचागिरी भी तो करनी है…। राज्यपाल सर ने मास्क हटाने को कहा था। इस वीडियो को देखिए…


गौरतलब है कि कंगना से पहले केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की थी।और कंगना रनौत के दफ्तर पर बीएमसी की कार्रवाई को गलत ठहराते हुए मुआवजे की मांग भी की थी। आठवले ने कहा कि बीएमसी की कार्रवाई गलत थी। अभिनेत्री को न्याय मिलना चाहिए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शराब-सिगरेट की लग गई थी लत, पत्नी से रिश्तों में भी आ गई थी तल्ख़ी- KBC-5 जीतने वाले बिहार के सुशील कुमार ने सुनाई दास्तां
2 कोरोना से जंगः WHO द्वारा पाकिस्तान की तारीफ पर कुमार विश्वास ने मारा ताना- दफ़ा हो जाओ यहां से! ख़बरदार जो…
3 क्या मुंबई सिर्फ पैसा कमाने के लिए है?- कंगना रनौत के बाद अक्षय कुमार पर भड़के संजय राउत
ये पढ़ा क्या?
X