ताज़ा खबर
 

‘राहुल गांधी भारतीय राजनीति के पोगो चैनल हैं, देखता और हंसता हर कोई है लेकिन गंभीरता से..’ अमिश देवगन के शो पर बीजेपी प्रवक्ता ने राहुल गांधी की उड़ाई खिल्ली

अमिश देवगन के शो में बोलते हुए बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने राहुल गांधी की तुलना पोगो चैनल से कर दी। उन्होंने कहा कि उन्हें देखता और देखकर हंसता हर कोई है लेकिन कोई गंभीरता से नहीं लेता।

gaurav bhatia, rahul gandhi, amish devganगौरव भाटिया ने राहुल गांधी की जमकर खिल्ली उड़ाई है

राहुल गांधी के विदेश जाने से बीजेपी उन पर जमकर हमला कर रही है। कांग्रेस पार्टी की तरफ से कहा गया कि राहुल गांधी ‘निजी यात्रा’ पर विदेश गए हैं हालांकि कहां गए हैं इसकी जानकारी नहीं दी गई। लेकिन खबरें हैं कि वो इटली के मिलान शहर अपनी नानी से मिलने  गए हैं। उनके इस दौरे से सोशल मीडिया पर भी कुछ लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं क्योंकि वो किसान आंदोलन को लेकर खूब सक्रिय थे। लोग कह रहे हैं कि अभी किसानों का मुद्दा सुलझा नहीं है, इसके बावजूद वो विदेश चले गए। उनमें एक नेता होने के गुण नहीं हैं।

इसी बात पर न्यूज़ 18 के डिबेट शो, ‘आर- पार’ में बीजेपी के ग़ौरव भाटिया ने राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी साल के 20 घंटे भी काम नहीं करते। उन्होंने राहुल गांधी की खिल्ली उड़ाते हुए कहा, ‘एक तरफ़ नरेंद्र मोदी हैं जिन्होंने पिछले 6 सालों में एक दिन भी अवकाश नहीं लिया और दिन में 20 घंटे तक काम किया और वहीं दूसरी तरफ वो राहुल गांधी हैं जो पूरे साल में 20 घंटे काम नहीं करते। आप उन्हें कितना भी बड़ा कह लीजिए लेकिन राहुल गांधी भारतीय राजनीति के पोगो चैनल हैं। देखता हर कोई है, हंसता हर कोई है लेकिन उन्हें गंभीरता से कोई नहीं लेता।’

उन्होंने कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम से कहा, ‘सेनापति मैदान छोड़कर भाग गया और यहां प्रवक्ता डटे हुए हैं। ये भगोड़े गांधी हैं या अनुपस्थित गांधी, इनका नामकरण करिए। संसद में जब से ये सांसद हैं इनकी अटेंडेंस 45 प्रतिशत, स्टैंडिंग कमेटी की 14 में से दो मीटिंग में आए। नरेंद्र मोदी के मजबूत नेतृत्व में राहुल गांधी को नानी याद आ गई है, इसलिए वो गए हैं। जितनी दूर रहेंगे भारत से उतना ही अच्छा है।’

आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ग़ौरव भाटिया के तीखे प्रहारों का ज़वाब देते हुए कहा, ‘ये राष्ट्रीय चैनल है तो इसमें हल्के शब्दों का प्रयोग करना उचित नहीं है। उन्होंने पोगो की बात कर दी जैसे वो बच्चे हैं इस तरह नहीं बोलना चाहिए, ये गंभीर विषय है और इसपर गंभीरता से उत्तर देना चाहिए। ये भगोड़े गांधी नहीं है बल्कि ये वो गांधी हैं जिन्होंने अंग्रेजों को देश से भगाया।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फिर मुंबई लौटीं कंगना रनौत, तगड़ी सिक्योरिटी के बीच एक्ट्रेस की वापसी को देख फैंस के रिएक्शन भी आए बाहर
2 ‘मोदी जी को प्रधानमंत्री व्हाट्स एप मैसेज योजना लॉन्च करनी चाहिए..’, पत्रकार रवीश कुमार ने कसा तंज तो लोग करने लगे ऐसे कमेंट
3 ‘भाजपा है झूठों का मेला, किसान है हमारा अकेला…’ अर्नब गोस्वामी के डिबेट शो में बीजेपी समर्थक पर गरजे राजनीतिक विश्लेषक
ये पढ़ा क्या?
X