दिलीप और राजकुमार 36 साल पुराने दुश्मन हैं- ‘सौदागर’ से पहले सुभाष घई को मिली थी चेतावनी, साथ लाना नहीं था आसान

सुभाष घई की फिल्म सौदागर में दिलीप कुमार और राजकुमार साथ नज़र आए थे। फिल्म के सेट पर दोनों आपस में एक-दूसरे से बात तक नहीं करते थे। सुभाष घई को पहले ही इसके बारे में चेतावनी मिल गई थी।

Raaj Kumar Dilip Kumar
दिलीप कुमार और राजकुमार (Photo- Indian Express)

सुभाष घई की फिल्म सौदागर 9 अगस्त 1991 को रिलीज हुई थी। फिल्म में राजकुमार के साथ दिलीप कुमार नज़र आए थे। दोनों ने फिल्म में स्क्रीन जरूर शेयर की थी, लेकिन रीयल लाइफ में दोनों एक-दूसरे को देखना भी पसंद नहीं करते थे। करीब 36 से दिलीप कुमार और राजकुमार एक-दूसरे से बात तक नहीं करते थे। सुभाष घई के लिए दोनों को साथ लाना भी काफी मुश्किल था और यहां तक कि उनके राइटर ने पहले ही चेतावनी भी दे दी थी।

सुभाष घई ने ‘नेशन नेक्स्ट’ से बातचीत में खुद इसका किस्सा सुनाया था। सुभाष घई ने बताया था, ‘जब मैंने सौदागर की स्क्रिप्ट पूरी की और दिलीप जी को सुनाने जाने ही वाला था तो मेरे राइटर ने एक चेतावनी दी। उसने कहा कि क्या आपको पता है कि दिलीप कुमार और राजकुमार पिछले 36 सालों से दुश्मन हैं? मैं डर गया था। मैंने सोचा कि कम से कम मुझे ट्राई तो करना चाहिए।’

दिलीप कुमार पर क्या बोले थे राजकुमार? सुभाष घई आगे बताते हैं, ‘जब दिलीप साहब फिल्म करने के लिए तैयार हो गए तो मैंने उन्हें बताया कि आपके साथ राजकुमार काम करेंगे और उनका जवाब सुने बिना ही कार में बैठकर भाग गया था। अब मैंने दिलीप कुमार साहब को बता दिया और मैं उनसे 5-6 दिनों तक नहीं मिला था।’

इसके बाद सुभाष घई ने दूसरे लीड एक्टर राजकुमार को फिल्म की स्क्रिप्ट के बारे में बताना था। सुभाष घई बताते हैं, ‘मैंने राजकुमार जी को थोड़ी धीमी आवाज में बताया कि मैं किसी बड़े नाम को इसमें नहीं ले सकता इसलिए दिलीप कुमार को लेने पर विचार कर रहा हूं। राज साहब ये सुनने के बाद थोड़ा रुककर जवाब देते हैं- जानी, अपने बाद हम किसी को एक्टर मानते हैं तो वो है दिलीप कुमार। ये रोल उनपर बहुत अच्छा लगेगा।’

सुभाष घई ने आगे बताया था कि मुझे दोनों एक्टर्स को हैंडल करना भी काफी मुश्किल था। उन्होंने बताया था, ‘मैं राजकुमार साहब को कहता था कि दिलीप कुमार आपके फैन हैं। दिलीप कुमार को कहता था कि राजकुमार आपके बहुत बड़े फैन हैं। मेरी इन्हीं बातों से उनके बीच मतभेद कम हो गया था और फिल्म खत्म होने तक दोनों अच्छे दोस्त बन गए थे। फिल्म में जैसे आपने दोनों को आमने-सामने देखा, कुछ वैसा ही दोनों की रीयल लाइफ में चल रहा था।’

क्यों बात नहीं करते थे दिलीप कुमार? साल 1959 में रिलीज हुई फिल्म ‘पैगाम’ में दिलीप कुमार और राजकुमार ने साथ काम किया था। राजकुमार को एक सीन में दिलीप कुमार को थप्पड़ मारना था। शूट के दौरान राजकुमार सीन में इतना चले गए कि उन्होंने दिलीप कुमार सचमुच ज़ोरदार तमाचा जड़ दिया था। दिलीप कुमार इससे बहुत नाराज़ हो गए थे और उन्होंने फैसला किया था कि अब वह कभी राजकुमार के साथ काम नहीं करेंगे।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट