ताज़ा खबर
 

पिक्चर चले या न चले, फीस तो बढ़ेगी- फ्लॉप फिल्मों के बाद भी अपनी फीस बढ़ाते थे राजकुमार, दिया था ऐसा जवाब

राजकुमार की फ़िल्में फ्लॉप हो तब भी वो अपनी फीस एक लाख रूपए बढ़ा देते थे। इस बारे में उनका कहना था कि मेरी फ़िल्में फ्लॉप हो सकती हैं लेकिन मैं नहीं।

raaj kumar, dilip kumar, raaj kumar life storyराजकुमार फ्लॉप फिल्मों के बाद भी अपनी फीस बढ़ाते थे (Photo-Social Media/File)

राजकुमार अपने ज़माने के उन अभिनेताओं में गिने जाते थे जो अपनी शर्तों पर फिल्म किया करते थे। उन्हें अगर कोई कलाकार पसंद नहीं आता तो वो फ़िल्म छोड़ देते थे। ऐसे कई किस्से प्रचलित हैं जब उन्होंने निर्देशकों के मुंह पर फिल्मों के लिए बेरुखी से मना कर दिया था। राजकुमार की एक और खास बात थी कि चाहे उनकी कोई फ़िल्म चले या न चले, लेकिन वो अपनी फीस जरूर बढ़ाते थे। उस जमाने में भी वो हर फिल्म के बाद अपनी फीस कुछ हज़ार नहीं बल्कि सीधे एक लाख बढ़ाते थे। इस बात का खुलासा राजकुमार ने खुद एक इंटरव्यू में किया था।

लेहरन को दिए एक पुराने इंटरव्यू में राजकुमार ने कहा था कि उनकी फिल्में फ्लॉप हो सकती हैं, वो नहीं। 1994 में आई उनकी फिल्म बेताज बादशाह बुरी तरह फ्लॉप हो गई थी। इस फिल्म में शत्रुघ्न सिन्हा, मुकेश खन्ना जैसे कलाकार भी थे बावजूद इसके फिल्म फ्लॉप रही थी। इसकी नाकामयाबी पर राजेश खन्ना ने कहा था, ‘हर रोल जो मैं करता हूं, उसके साथ पूरा न्याय करता हूं। मैं कभी नहीं सोचता कि मैं उसमें फेल हुआ। फिल्में फ्लॉप हो सकती हैं लेकिन मैं नहीं।’

राजकुमार ने अपनी फीस बढ़ाने को लेकर कहा था, ‘मुझे याद है, जब मेरी फिल्में फ्लॉप हो जाती थीं और फिर भी मेरा प्राइस एक लाख और बढ़ जाती थी। मेरा सेक्रेट्री ने मुझसे पूछा था कि राज साहब फिल्म तो चली नहीं, आप एक लाख बढ़ा रहे हैं? मैंने कहा कि पिक्चर चले न चले, मैं फेल नहीं हुआ, इसलिए एक लाख बढ़ेगा।’

 

राजकुमार ने बॉलीवुड इंडस्ट्री में न सिर्फ अपनी पहचान बनाई थी बल्कि वो सबसे महंगे कलाकारों में शुमार थे। जब इंडस्ट्री में दिलीप कुमार, राजेश खन्ना, राज कपूर, देव आनंद जैसे दिग्गज अभिनेता राज करते थे उस दौर में राजकुमार ने एक अलग मुकाम हासिल किया था। लेकिन उनके अक्खड़पन से कभी- कभार निर्देशक और उनके साथी कलाकार नाराज भी हो जाते थे। इसी तरह एक बार दिलीप कुमार से उनका झगड़ा हो गया था जिसके बाद दिलीप कुमार ने कसम खाई थी कि वो कभी उनके साथ काम नहीं करेंगे।

 

1959 में दोनों फिल्म पैगाम में काम कर रहे थे। उन दिनों दिलीप कुमार एक स्थापित अभिनेता थे लेकिन राजकुमार ने अभी अपने करियर की शुरुआत ही की थी। राजकुमार फिल्म में दिलीप कुमार के बड़े भाई बने थे। एक सीन में उन्हें दिलीप कुमार को थप्पड़ मारना था। राजकुमार ने वो थप्पड़ इतनी जोर से मारा कि दिलीप कुमार झल्ला गए।

इसके बाद उन्होंने कसम खाई कि वो कभी राजकुमार के साथ नहीं करेंगे। लेकिन 32 सालों बाद दोनों फ़िल्म सौदागर के लिए साथ आए थे। इस फ़िल्म की शूटिंग के दौरान भी दोनों के बीच बातचीत नहीं होती थी। हालांकि बाद के दिनों में दोनों के बीच की तल्खी कम हो चली थी।

Next Stories
1 सुशांत की तरह उसे लटकने पर मजबूर मत करो- करण जौहर की फ़िल्म से बाहर हुए कार्तिक आर्यन तो फूटा कंगना का गुस्सा
2 क्या राहुल गांधी ने वैक्सीन लगवाई? संबित पात्रा ने किया सवाल तो अंजना ओम कश्यप ने यूं किया पलटवार
3 क्या लोगों की जान से जरूरी है कुंभ? एंकर ने किया सवाल तो स्वामी चक्रपाणि देने लगे वाइन शॉप का उदाहरण; देखें
यह पढ़ा क्या?
X