ताज़ा खबर
 

Qarib Qarib Singlle Review: साथ जीने मरने की कहानी नहीं बल्कि जीने का तरीका सीखाती है फिल्म

Qarib Qarib Singlle Movie Review in Hindi: इंटरनेट के जरिए मिले दो लोगों की अनरोमांटिक यात्रा को दिखाती कहानी है फिल्म।

Qarib Qarib Singlle Movie: फिल्म के एक सीन में पार्वती के साथ इरफान खान।

तनुजा चंद्रा के निर्देशन में बनी इरफान खान और पार्वती की फिल्म करीब करीब सिंगल एक रोमांटिंक कॉमेडी फिल्म है। जिसमें दो मध्यम वर्गीय लोगों की यात्रा को दिखाया गया है। फिल्म लोगों को जीना सिखाएगी। फिल्म में पहली बार एक्टर पार्वती के साथ बड़े पर्दे पर नजर आएंगे। यह इस दक्षिण भारतीय एक्ट्रेस की बॉलीवुड डेब्यू फिल्म भी है।

फिल्म योगी और माया के इर्द-गिर्द घूमती है। जो एक छोटी सी यात्रा पर साथ जाते हैं। इस यात्रा के दौरान दोनों अपने अतीत के रिश्तों के बारे में बात करते हैं। दोनों ऋषिकेष, बिकानेर और गैंगटोक की यात्रा करते हैं और यह उनकी जिंदगी बदल देती है। फिल्म में इरफान एक ऐसे लड़के बने हैं जिसे शादी की जल्दी है और जिसे अतीत में तीन बार जानलेवा इश्क हो चुका है। वहीं पार्वती उनसे पीछा छुड़ाने के तरीके ढूंढती हुई नजर आती हैं। क्या दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो पाएगा? या फिर दोनों सिंगल ही रहेंगे यही है फिल्म की कहानी।

फिल्म में पार्वती एक ऐसी लड़की का रोल निभा रही हैं जो गुस्से वाली है। फिल्म दो लोगों की अनरोमांटिक कहानी को दिखा रहा है। हालांकि दोनों इंटरनेट के जरिए एक-दूसरे से मिलते हैं फिर भी उनमें रोमांस नजर नहीं आता है।

फिल्म की स्पेशल स्क्रिनिंग पर इरफान ने कहा- यह साथ जीने मरने वाली लव स्टोरी नहीं है। यह वो कहानी है जो आपको जीना सिखाएगी। यह फिल्म परिवार के लिए बनाई गई है। घर के सारे सदस्य इसे साथ बैठकर देख सकते हैं। इस फिल्म में पुराने जमाने का प्यार और रोमांस है। मुझे लगता है कि जब लोग फिल्म को देखेंगे तो उनके चेहरे पर हंसी आएगी।

https://www.jansatta.com/entertainment/

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App