ताज़ा खबर
 

56 इंच का सीना और 57 किसानों की मौत- पुण्य प्रसून बाजपेयी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना तो आने लगे ऐसे कमेंट

प्रसून ने ये पोस्ट प्रियंका गांधी वाड्रा के ट्वीट को री-ट्वीट कर लिखा। प्रियंका ने अपने पोस्ट में लिखा था- 'सर्द मौसम में दिल्ली बॉर्डर पर बैठे किसान भाइयों की मौत की खबरें..

modi, pm indiaप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (ANI)

किसान बिल को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार सवाल उठाए जा रहे है। पुण्य प्रसून बाजपेयी ने भी पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कुछ ट्वीट्स किए हैं। 57 किसानों की मौत पर शोक जताते हुए उन्होंने केंद्र सरकार और पीएम मोदी पर तंज कसा है। पुण्य प्रसून बाजपेयी ने अपने पोस्ट में लिखा-  ’56 इंच का सीना..57 किसानों की मौत.. दिल दिमाग पर हावी है मन की बात।’

प्रसून ने ये पोस्ट प्रियंका गांधी वाड्रा के ट्वीट को री-ट्वीट कर लिखा। प्रियंका ने अपने पोस्ट में लिखा था- ‘सर्द मौसम में दिल्ली बॉर्डर पर बैठे किसान भाइयों की मौत की खबरें विचलित करने वाली हैं। मीडिया खबरों के मुताबिक अभी तक 57 किसानों की जान जा चुकी है और सैकड़ों बीमार हैं। महीने भर से अपनी जायज मांगों के लिए बैठे किसानों की बातें न मानकर सरकार घोर असंवेदनशीलता का परिचय दे रही है।’

अपने अगले ट्वीट में प्रसून बाजपेयी ने लिखा- ‘सुबह सुबह….. दिल्ली में बारिश… आप मोर की थिरकन में मशगुल तो नहीं… ख़लल नहीं डालेगें पर किसान को याद कर लें..।’ फिर एक अन्य पोस्ट पर उन्होंने लिखा- ‘जब फसल के लिए अच्छी नहीं है ये बारिश, तो किसान के लिए कैसे अच्छी होगी? फिर किसान ही जब फसल बन बैठा हो सड़क पर जिसका ना कोई सरकारी मोल ना बीमा! फिर रेशमी चादर में लिपटी सत्ता को कौन जगाये?’

इन ट्वीट्स के बाद लोगों ने भी सवाल खड़ करने शुरू कर दिए। एक यूजर ने कमेंट बॉक्स पर सवाल पूछते हुए कहा- ‘सैंकड़ों लोग नोट बंदी में मर गए और वो ताली बजाते रहे। ४४ जवान पुलवामा में शहीद हो गए और वो शूटिंग करवाते रहे। कितने ही लोग पैदल सड़कों पर मजबूरी में मर गए और वो नमस्ते ट्रम्प करवाते रहे और आप उनसे किसानों की मौत पर सवाल पूछ रहे हैं? ये लाशों के सौदागर हैं एडियां रगड़ रगड़ कर मरेंगे।’ एक बोला- ‘”डिग्री छुपाई जा सकती है लेकिन मूर्खता नहीं।” अंधभक्तों से निवेदन है कि इसे दिल पे मत लें। आप इस कानून का कोई एक फायदा बता दीजिए श्रीमान।’ एक ने कहा- ‘एक रात तो काट के देख इस ठंड में किसान की ट्राली में। कीमत अनाज की पता चल जाएगी जो परोसा जाता है तेरी थाली में।’ तो किसी ने मजाकिया अंदाज में लिखा- ‘मुझे पता था की अगर साहेब ज़रा सा कुछ भी कह दिया तो नारंगी खटमल हाथ धो कर पीछे पड़ जायेंगे’

Next Stories
1 जब सेट पर गुस्से में सनी देओल ने फाड़ दी थी अपने जींस की ज़ेब; इस बात से थे परेशान
2 क्या सोनिया गांधी ने तीनों कानून पढ़े और उन्हें समझ में आया? – फिल्ममेकर ने कांग्रेस अध्यक्ष को मारा ताना; देखें- आने लगे कैसे कमेंट
3 माता-पिता के बेहद करीब हैं सनी देओल; सगी बहनें रहती हैं विदेश में; जानिये- सौतेली बहनों ईशा और आहना से कैसे हैं रिश्ते
ये पढ़ा क्या?
X