ताज़ा खबर
 

ऐसा न हो कि राष्ट्रपति भवन को अस्पताल बनाना पड़े- कोरोना संकट के बीच बोले पुण्य प्रसून बाजपेयी; मोदी सरकार पर कसा तंज़

अपने एक पोस्ट में बाजपेयी ने लिखा- 'मौत का क़ाफ़िला चल निकला... ना उफ़ ! ना रूदन ! सिर्फ़ मौन ! अपराधी कौन?' देश में अस्पतालों के हालातों पर तंज कसते हुए बाजपेयी बोले..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (इंडियन एक्सप्रेस फोटो)

Punya Prasun Bajpai: ‘सेंट्रल विस्टा प्रॉजेक्ट’ पर चुटकी लेते हुए पुण्य प्रसून बाजपेयी ने एक ट्वीट किया। अपने पोस्ट में वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए बोले- सेंट्रल विस्ता.. संभले। कहीं हालात इतने ना बिगड़ जाएं कि पीएम निवास और राष्ट्रपति भवन को भी अस्पताल में तब्दील करना पड़ जाए!’ अगले पोस्ट में पुण्य प्रसून बाजपेयी बोले- ‘साहिब….. सेंट्रल विस्ता पर टैक्स पेयर का कितना ₹ खर्च? ₹13400cr ₹15000cr ₹20000cr ₹22000cr सही जानकारी दें…।’ सोने की चिड़ियां’ का अंदाज़ा लगे।’

अपने एक पोस्ट में बाजपेयी ने लिखा- ‘मौत का क़ाफ़िला चल निकला… ना उफ़ ! ना रूदन ! सिर्फ़ मौन ! अपराधी कौन?’ देश में अस्पतालों के हालातों पर तंज कसते हुए बाजपेयी ने लिखा- ‘ज़िन्दगी के लिए मौत! बेड तभी मिलेगा जब किसी बेड पर मौत होगी.. ICU में शिफ़्ट तभी होंगे जब वहां किसी की मौत होंगी। कोई प्लानिंग है या मौत का अभ्यस्त हो जाये।’ अपने एक पोस्ट पर बाजपेयी बोले- ‘सत्ता याद रखें….. वक्त कितना भी बीत जाये इस वक्त को कोई भूलेगा नहीं..।’

पुण्य प्रसून बाजपेयी के पोस्ट को देख कर सोशल मीडिया पर लोगों के रिएक्शन सामने आने लगे। गौरव पायलेट नाम के यूजर ने लिखा- ‘जी बिलकुल, हमें किसी भी गवर्नमेंट से ऐसे समय में सवाल करने चाहिए। अंधभक्तों की तरह फॉलो करते नहीं रहना चाहिए।’

एक ने कहा-‘अगर सेंट्रल गवर्नमेंट कोविड से मुकाबला करने में फेल साबित हो रही है तो हम उन्हें सपोर्ट क्यों कर रहे हैं? और वो लो उन फंड्स का इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं जो नेशनल प्रॉयोरिटी के लिए हैं। सेंट्रल विस्ता और बाकी इंफ्रा अभी जरूरी नहीं हैं।’

बाजपेयी के पोस्ट पर रिएक्ट करते हुए वसंत जादव नाम के यूजर बोले- भगवन करे ऐसा दिन नहीं आये संसद भवन, राष्ट्रपति भवन और बीजेपी का कार्यालय भी काम आएगा और सारे बीजेपी वाले अपने घर भी दे देंगे।

पूनम चांद नाम की महिला यूजर ने पूछा- ‘नेहरू ने कितने ऑक्सीजन प्लांट लगवाए? कांग्रेस के 60 साल के शासन में कितने प्लांट लगे? अब ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी भी कांग्रेसी कर रहे हैं? लेकिन पूरा इल्जाम मोदीजी!’ राजन नाम के यूजर बोले- आप तो अपने कमरे में आराम से बैठकर केवल डर और हताशा बांटते रहिए साहब। समझो ये देश आपका भी है यह महामारी तो देर सवेर जायेगी ही। धैर्य बांटो।’

Next Stories
1 मोदी जी देश को इतनी ऊंचाई पर ले गए कि ऑक्सीजन कम पड़ गई- संबित पात्रा ने उद्धव ठाकरे पर कसा तंज़ तो लोग करने लगे ऐसे कमेंट
2 जलती चिताओं के बीच दिल्ली में मोदी महल बना…कोरोना संकट के बीच PM मोदी पर बरसे बॉलीवुड एक्टर
3 चारों तरफ चिताएं जल रही हैं और आप ये कह रहे हो- अनुपम खेर ने महामारी के बीच दी उम्मीद रखने की सलाह तो बिफरे कुमार विश्वास
ये पढ़ा क्या?
X