प्रधानमंत्री मोदी का पुराना वीडियो शेयर कर पुण्य प्रसून बाजपेयी ने मारा ताना, लोग कर रहे ऐसे कमेंट

नरेंद्र मोदी इंटरव्यू में कहते दिख रहे हैं कि मीडिया ताकतवर होगी तभी लोकतंत्र चलेगा। ये इंटरव्यू क्लिप नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने से पहले का है जिसमें प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि...

narendra modi, punya prasun bajpai, press freedom in indiaपुण्य प्रसून बाजपेयी ने प्रधानमंत्री के पुराने वीडियो पर तंज कसा है (File Photo)

फ्रीडम हाउस की हालिया डेमोक्रेसी रिपोर्ट में भारत को ‘आज़ाद’ से श्रेणी से नीचे कर ‘आंशिक रूप से आज़ाद’ देश का दर्जा दिया गया है। संस्था की तरफ से 100 के मानक पर भारत को 67 अंक दिए गए हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि मीडिया में विरोधी स्वरों को दबाने के लिए अधिकारियों ने मानहानि, देशद्रोह, हेट स्पीच और अदालत की अवमानना के कानूनों का गलत इस्तेमाल किया है। इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि राजनेताओं और कुछ प्रमुख मीडिया घरानों के मालिकों के बीच के गठजोड़ से लोगों का मीडिया से भरोसा कम हुआ है।

इसी तरह स्वीडन की संस्था वी- डेम ने भी हाल ही में भारत को ‘चुनावी निरंकुशता’ वाला देश बताया है। ऐसे में लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक पुराना इंटरव्यू शेयर कर सरकार पर तंज कस रहे हैं। नरेंद्र मोदी इस इंटरव्यू कहते दिख रहे हैं कि मीडिया ताकतवर होगी तभी लोकतंत्र चलेगा। ये इंटरव्यू क्लिप नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने से पहले का है जब उन्होंने एबीपी न्यूज़ से बात की थी।

उनके इस इंटरव्यू क्लिप को शेयर कर वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने लिखा, ‘लोकतंत्र में अगर मीडिया ताकतवर नहीं होगा तो लोकतंत्र नहीं चलेगा- नरेंद्र मोदी (पीएम बनने से ठीक पहले)।’ वीडियो क्लिप में जब नरेंद्र मोदी से पूछा गया- जब भी कोई व्यक्ति सत्ता की दावेदारी पेश करता है तो मीडिया के मन में ये सवाल होता कि क्या इनके आने से हमारे अधिकार पर कोई आंच आ सकती है तो क्या मीडिया से आपको डरना चाहिए?

 

इस सवाल के जवाब में नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘अगर उन्हें किसी से डर लगता है तो ये क्षेत्र छोड़ देना चाहिए। लोकतंत्र में मीडिया अगर ताकतवर नहीं होगा तो लोकतंत्र चलेगा नहीं। ऐसा डरपोक मीडिया देश को नहीं चाहिए, भाग जाने वाला मीडिया नहीं चाहिए।’ नरेंद्र मोदी इस वीडियो में आगे कहते हैं, ‘मजबूत मीडिया चाहिए जो डटकर खड़ा रहे। कितना भी बड़ा तिसमार खान आए कि नेता आए तो भी खड़ा रहे ऐसा मीडिया चाहिए। भागने वाली बात मत करो। भागते हो तो मुझे कह देना, मैं मदद करूंगा, बचाऊंगा।’

 

नरेंद्र मोदी के इस पुराने इंटरव्यू और पुण्य प्रसून बाजपेयी के इस ट्वीट पर यूजर्स भी अपनी राय दे रहे हैं। संगम वासी नाम के एक यूजर लिखते हैं, ‘वाकई में मीडिया बहुत ताकतवर हो गया है, बहुत मजबूती के साथ खड़ा है अपने पालनहार के साथ।’ हेमंत नाम के एक यूजर लिखते हैं, ‘ये पता था तभी तो मीडिया खत्म करने में लग गया और सफलता मिली..लोकतंत्र खत्म।’

 

प्रमोद श्रीवास्तव नाम के यूजर ने वरिष्ठ पत्रकार पर तंज कसते हुए लिखा, ‘इन जैसे पत्रकारों को इस बात का दुख है कि यूपीए के कार्यकाल वाली मौज मस्ती, मुफ्त देसी विदेशी भ्रमण, जोर सिफारिश मोदी काल में समाप्त हो गई, अतः ये बेचारे अत्यंत गमगीन हैं।’

Next Stories
1 अली गोनी के भाई को डेट कर रहीं ऋतिक रोशन की एक्स वाइफ सुजैन खान? जानें क्या है मामला
2 बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही जान्हवी कपूर- राजकुमार राव की फ़िल्म, ‘Roohi’, सोशल मीडिया पर यूजर्स दे रहे ऐसा रिएक्शन
3 शादीशुदा होने के बावजूद पहली फ़िल्म में ही अमृता सिंह को दिल दे बैठे थे सनी देओल, डिंपल कपाड़िया से भी चला लंबा अफ़ेयर
यह पढ़ा क्या?
X