किसान जाति-धर्म में न बंटे तो हर सत्ता को पलट देंगे- बोले पुण्य प्रसून बाजपेयी तो लोग करने लगे ऐसे सवाल

मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत का जिक्र करते हुए पुण्य प्रसून बाजपेयी ने कहा ‘किसान जाति में ना बंटें, किसान खाप में ना बंटे।’

Punya Prasun Bajpai, Kissaan Aandolan, farmers,
मुजफ्फरनगर में महापंचायत (Express photo by Gajendra Yadav))

वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। हाल ही में उन्होंने किसानों पर एक पोस्ट की। अपनी पोस्ट में वह कहते दिखे कि किसान हर सत्ता को पलटने की शक्ति रखता है। मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा ‘किसान जाति में ना बंटें, किसान खाप में ना बंटे, किसान किसानी को ही जाति-धर्म मान ले, तो हर सत्ता को पलट देगा किसान आंदोलन।’

किसान महापंचाय़त पर एक वीडयो शेयर करते हुए उन्होंने कहा- ‘लाखों की तादाद में किसानों की मौजूदगी कौन गिनेगा, लेकिन कहावत मशहूर है अगर मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड को भरदिया जाए तो फिर सत्ता पलट जाती है। नाम महापंचायत जरूर है मगर इस महापंचायत में राजनीतिक मुनादी किसानों ने खुले तौर पर कर दी है।’

प्रसून बाजपेयी के इस पोस्ट पर ढेरों लोगों के रिएक्शन सामने आने लगे। कुलदीप बाजपेयी नाम के यूजर ने लिखा- ‘बिलकुल सही कहा, किसान मजबूत तो देश मजबूत।’ सत्यनारायण शर्मा ने लिखा- ‘किसानों को जाति में मत बांटो, सिर्फ हिन्दुओं को जाति में बांट दो और राज करो। भले देश के टुकड़े हो जाएं।’ मृणाल ठाकुर बोले- ‘यह ज्ञान हिंदुओं को देते तो ज्यादा बेहतर रहता, पर आप जैसे पत्रकार यह काम करेंगे नहीं।’

एक ने कहा- ‘अभी 15 / 20 साल और रुकिए, आपकी मन की सरकार उसके बाद ही आएगी!’ भावनेश नाम के यूजर बोले-‘बाजपेयी जी आप केवल गवर्नमेंट बदलने को लेकर ही चिंतित क्यों हैं?’ कृष्ण नाम के यूजर ने लिखा-‘और पत्रकार सिर्फ़ पत्रकारिता करे निष्पक्ष पत्रकारिता। पहले उसमें एक बेहतर राष्ट्र हित की समझ हो।’

ज्ञात हो, मुजफ्फरनगर की किसान महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन (BKU) नेता राकेश टिकैत यूपी और मोदी सरकार पर जमकर बरसे। टिकैत ने किसान महापंचायत में कहा कि सरकार को वोट की चोट देनी होगी। तो वहीं, राकेश टिकैत के भाई नरेश टिकैत ने भी कहा, ‘किसान कब तक अपनी परीक्षा देगा, 9 महीने हो गए हैं और इस सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ रहा। हम और लंबा आंदोलन कर सकते हैं और करेंगे। हम डटे रहेंगे हमें कोई दिक्कत नहीं है।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट