ताज़ा खबर
 

पृथ्वीराज कपूर ने पंडित नेहरू से मिलने से क्यों कर दिया था इनकार? जानें- पूरा किस्सा

Prithviraj Kapoor: साल 1969 में पृथ्‍वीराज कपूर को पद्म भूषण अवॉर्ड से भी सम्‍मानित किया गया था। वहीं उन्हें दादा साहब फाल्‍के पुरस्‍कार से भी नवाजा गया था।

Prithviraj Kapoor, Superstar Prithviraj Kapoor, Legend Prithviraj Kapoor, Prithviraj Kapoor did refuse to meet Pandit Nehru, Jawahar Lal Nehru, entertainment news, bollywood news, television newsपृथ्वीराज कपूर (फोटोसोर्स: इंडियन एक्सप्रेस आरकाइव)

Prithviraj Kapoor: हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता पृथ्वीराज कपूर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के बेहद करीबी थे। अपनी फिल्मों से तो पृथ्वीराज कपूर पूरे देश का दिल जीत चुके थे। वहीं यारी दोस्ती के मामले में वह पंडित जी के प्रिय भी बन गए थे। पृथ्वी राज पहले ऐसे बॉलीवुड कलाकार थे जो राज्यसभा में मनोनीत होकर संसद पहुंचे थे। ऐसे में इनकी दोस्ती और गहराती गई।

एक बार पंडित जी पृथ्वीराज कपूर से मिलने के लिए जा पहुंचे। जैसे ही पृथ्वीराज कपूर को नेहरू जी के आने की खबर दी गई औऱ बताया गया कि पंडित नेहरू उनसे मिलना चाहते हैं तो पृथ्वीराज ने उनसे मिलने से साफ इनकार कर दिया।

वरिष्ठ पत्रकार राशिद किदवई की किताब के मुताबिक- पृथ्वीराज ने पंडित नेहरू से मिलने से मना कर दिया था, इसके पीछे का कारण था कि पृथ्वीराज अपनी थिएटर टीम के साथ काम कर रहे थे। पंडित नेहरू को जब बताया गया कि पृथ्वीराज ने उनसे मिलने से इनकार कर दिया है तो वह समझ गए। पृथ्वीराज से वह उस वक्त तो नहीं मिले। लेकिन बाद में पंडित नेहरू ने पृथ्वीराज को खाने पर बुलाया। साथ ही उन्होंने पृथ्वी की पूरी टीम को भी अपने घर दावत पर बुलाया था। इस बात से पृथ्वीराज बहुत खुश हो गए थे।

बता दें, साल 1969 में पृथ्‍वीराज कपूर को पद्म भूषण अवॉर्ड से भी सम्‍मानित किया गया था। वहीं उन्हें दादा साहब फाल्‍के पुरस्‍कार से भी नवाजा गया था। फिल्‍म ‘मुगल-ए-आजम’ में बादशाह अकबर का किरदार निभानेवाले पृथ्‍वीराज कपूर की आज (29 मई) की पुण्यतिथि है। पृथ्‍वीराज कपूर का जन्‍म 3 नवंबर 1906 को पंजाब के लायलपुर में एक जमींदार के यहां हुआ था।

पृथ्वीराज ने हिंदी सिनेमा को एक से बढ़कर एक फिल्में बना कर दी हैं। इनमें ‘विद्यापति’ (1937), ‘जिंदगी’ (1964), ‘आसमान महल’ (1965), ‘आवारा’ (1951), ‘तीन बहूरानियां’ (1968), ‘दहेज’ (1950), ‘सिकंदर’ (1941), हीर रांझा (1970), ‘कल आज और कल’ (1971) और ‘चिंगारी’ जैसी फिल्‍में हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कॉमेडियन सुरलीन कौर के खिलाफ ISKCON ने दर्ज कराई शिकायत, अपमानजनक टिप्पणी का आरोप
2 टिड्डियों को खा रहा था शख़्स, वीडियो शेयर कर बोलीं एक्ट्रेस- हमने अभी तक सबक नहीं सीखा…
3 नवाजुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी आलिया ने हर्जाने के तौर पर मांगा 30 करोड़ रुपये और 4-BHK फ्लैट?