ताज़ा खबर
 

पैसे TMC से लिए और तारीफ मोदी की कर रहे?- डिबेट में कहने लगे एंकर तो पैनलिस्ट से मिला ऐसा जवाब

पैनलिस्ट से सवाल पूछा गया कि प्रशांत किशोर पैसे टीएमसी से ले रहे हैं और तारीफ मोदी की कर रहे हैं। जवाब में उन्होंने कहा कि वो एक स्टेटमेंट ऑफ फैक्ट हैं जो कि प्रशांत किशोर ने दिया है।

prashant kishor, prashant kishor leaked audio tape, bengal election 2021प्रशांत किशोर के वायरल ऑडियो टेप पर हंगामा मचा है (Photo-Indian Express/Abhinav Saha)

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान के बीच शनिवार को ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर का ऑडियो टेप वायरल हुआ। इन ऑडियो टेप्स में प्रशांत किशोर कहते दिख रहे हैं कि बंगाल में नरेंद्र मोदी काफी लोकप्रिय हैं और टीएमसी के लिए एंटी इनकंबेंसी देखी जा रही है। इस मुद्दे के सामने आने के बाद बीजेपी नेता टीएमसी को निशाने पर ले रहे हैं। बीजेपी आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने प्रशांत किशोर के कई ऑडियो टेप्स जारी कर उन पर निशाना साधा।

यह मुद्दा टीवी डिबेट पर भी छाया रहा। न्यूज नेशन के डिबेट शो पर भी इसी मुद्दे पर डिबेट हो रही थी जहां एंकर दीपक चौरसिया ने पैनलिस्ट से सवाल पूछा कि प्रशांत किशोर पैसे टीएमसी से ले रहे हैं और तारीफ मोदी की कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘25 परसेंट लोगों को अगर मोदी में भगवान दिखता है तो भारतीय जनता पार्टी की जीत अवश्यंभावी है? पैसे प्रशांत किशोर ने इनकी पार्टी से लिए और तारीफ मोदी की कर रहे हैं?’

उनके सवाल पर पैनल में मौजूद वरिष्ठ पत्रकार एन के सिंह ने कहा, ‘वो एक स्टेटमेंट ऑफ फैक्ट हैं जो कि प्रशांत किशोर ने दिया है। उन्होंने बड़ा ही बेबाक एनालिसिस किया है, शायद उनको नही मालूम था कि वो रिकॉर्ड हो रहे हैं, वरना न कहते। मोदी के आने से पहले बंगाल में बीजेपी का जो 18.6 परसेंट वोट था वो अचानक 31.3 परसेंट हो जाता है।’ उनकी बात पर एंकर ने उन्हें टोकते हुए कहा कि कैलाश विजयवर्गीय के मेहनत को आप नजरंदाज नहीं कर सकते।

 

बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान हुई हिंसा और 4 लोगों की मौत को लेकर पैनलिस्ट वरिष्ठ पत्रकार सुबीर भौमिक ने कहा कि बंगाल में हो रही हिंसा से कहीं कम्युनल हिंसा न शुरू हो जाए। उन्होंने कहा, ‘कहीं ऐसा तो नहीं कि बंगाल एक ज्वालामुखी की तरह खड़ा है और अचानक कहीं कोई माचिस डाल देने से जल उठेगा।’

 

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं इस बात से घबराया हुआ हूं, जिस तरह से प्रचार और हिंसा हो रही है, केंद्रीय बलों के खिलाफ टारगेटेड अटैक हो रहे हैं। इसके चलते कहीं कोई भरी कम्यूनल वॉयलेंस न शुरू हो जाए।’

Next Stories
1 नहीं रहे ‘महाभारत’ के ‘इंद्र’, अंतिम सांस तक आर्थिक तंगी से संघर्ष करते रहे हिंदी पंजाबी सिनेमा के अभिनेता सतीश कौल
2 ए. आर. रहमान ने एंकर के हिंदी बोलने पर दिया ऐसा रिएक्शन, स्टेज से उतर आए थे नीचे; अब सफाई में कही ये बात
3 जब जितेंद्र को देना था अपनी पहली फिल्म के लिए स्क्रीन टेस्ट, राजेश खन्ना पूरा दिन बैठाकर रटाते रहे थे डायलॉग
यह पढ़ा क्या?
X