इतिहास गवाह है, अहंकार व रावण का अंत होता है- कृषि कानूनों की वापसी पर बोले फिल्म निर्माता, पूर्व IAS ने कहा- बाबा तो गयो

पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले पर अब पूर्व आईएएस व बॉलीवुड सितारे ट्वीट कर किसानों को बधाइयां दे रहे हैं।

farm laws repeal
प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के ऐलान पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि किसानों ने अहंकार का सर झुका दिया। (एक्सप्रेस फोटो)

कृषि कानूनों के विरोध में बीते एक साल से दिल्ली के बॉर्डर पर डटे किसानों की मेहनत सफल हो गई है। गुरुपर्व के खास मौके पर मोदी सरकार ने कृषि कानूनों को वापस ले लिया और कहा कि हम किसानों को समझा नहीं पाए। उनका कहना था कि महीने के अंत में शुरू हो रहे संसद सत्र में तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। मोदी सरकार के इस फैसले पर अब बॉलीवुड कलाकारों सहित पूर्व आईएएस और राजनीतिक दिग्गज खूब प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

मशहूर फिल्म निर्माता विनोद कापरी ने कृषि कानूनों की वापसी पर ट्वीट किया, “इतिहास साक्षी है। अहंकार और रावण का एक दिन अंत हमेशा होता ही है।” पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले पर चुटकी ली और लिखा, “आज और अभी से मोदी युग के अंत की शुरुआत हो गई।” पूर्व आईएएस यहीं नहीं रुके। उन्होंने आगे लिखा, “बाबा तो गयो।”

अपने एक ट्वीट में सूर्य प्रताप सिंह ने यूपी चुनाव का भी जिक्र किया और लिखा, “सरकार ने घुटने टेके, तीनों काले कानून वापिस। यूपी चुनाव तक समझिए बस। एमएसपी पर कानून कब?” बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने कृषि कानूनों की वापसी पर किसानों को संबोधित करते हुए लिखा, “जीत गए आप, आपकी जीत में सबकी जीत। भारतियों को अपने किसानों से बहुत कुछ सीखना चाहिए।”

मशहूर एक्टर सोनू सूद ने पीएम नरेंद्र मोदी के कृषि कानूनों को वापिस लेने के फैसले पर लिखा, “किसान अपने खेतों में आएंगे, देश के खेत फिर से लहराएंगे। धन्यवाद मोदी जी, इस ऐतिहासिक फैसले से किसानों का प्रकाश पूरब और भी ऐतिहासिक हो गया। जय जवान, जय किसान।”

मशहूर एक्टर प्रकाश राज ने कृषि कानूनों की वापसी पर किसानों के जज्बे की सराहना की और लिखा, “बिना थके ही लड़ते रहे हमारे देश के किसानों ने राजा को उसके घुटनों पर ला दिया।” एक्टर जीशान अय्यूब ने किसानों को बधाई देते हुए लिखा, “किसान दोस्तों और सभी समर्थकों को बहुत मुबारक हो। हम लड़े साथी, हम जीते साथी। कोशिश करोगे तो कभी न कभी जीतोगे।”

कृषि कानूनों की वापसी को लेकर कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी भी ट्वीट करने से पीछे नहीं हटे। उन्होंने लिखा, “लीजिए काले कृषि कानून हट गए। सावरकर के वंशज फिर से झुक गए।” बता दें कि कृषि कानूनों की वापसी के ऐलान के बाद भी राकेश टिकैत ने कहा है कि आंदोलन तत्काल खत्म नहीं होगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि जब तक संसद में कानून वापस नहीं लिया जाता, आंदोलन यूं ही जारी रहेगा।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट