ताज़ा खबर
 

तापसी पन्नू ने बताया- लोग शर्मिंदा करते हैं इसलिए यौन शोषण पर चुप हैं अभिनेत्रियां

'बेबी' और 'नाम शबाना' में संवेदनशील किरदार निभाने के बाद तापसी की एक्शन हिरोइन वाली छवि बन चुकी है। हाल ही में उन्होंने पीटीआई से कई मुद्दों पर खुल कर बात की। उनका मानना है कि अभिनेत्रियां यौन शोषण करने वालों के नाम का खुलासा या उनके खिलाफ इसलिए भी आवाज नहीं उठाती हैं, क्योंकि वह शर्म और आंके जाने से डरती हैं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू। (फोटोः फेसबुक)

बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने यौन शोषण के मसले पर बेबाक टिप्पणी दी है। उन्होंने कहा है कि अक्सर लोग शर्मिंदा करते हैं, इसलिए अभिनेत्रियां आपबीती साझा नहीं करती हैं। वे चुप रह जाती हैं। एक्ट्रेस के अनुसार, “मैंने भी बॉलीवुड में यौन शोषण के कई किस्से सुने। वे घटनाएं मेरे साथ नहीं घटीं, लिहाजा मैं उन्हें जाहिर नहीं कर सकती।”

‘बेबी’ और ‘नाम शबाना’ में संवेदनशील किरदार निभाने के बाद तापसी की एक्शन हिरोइन वाली छवि बन चुकी है। हाल ही में उन्होंने पीटीआई से कई मुद्दों पर खुल कर बात की। उनका मानना है कि अभिनेत्रियां यौन शोषण करने वालों के नाम का खुलासा या उनके खिलाफ इसलिए भी आवाज नहीं उठाती हैं, क्योंकि वह शर्म और आंके जाने से डरती हैं।

बकौल एक्ट्रेस, “हॉलीवुड में पिछले आए दस्तक दे चुके मी टू कैंपेन का बॉलीवुड में आना अभी बाकी है। अभिनेत्रियों को लगता है कि करियर में उन्होंने जो कुछ भी हासिल किया है, उससे उनके खुलासे पर फर्क पड़ेगा। अगर वे यौन शोषण को लेकर आपबीती सुनाएंगी, तो लोग उनका समर्थन नहीं करेंगे। लोगों इसे प्रचार का घटिया तरीका समझेंगे। ऐसे में उनके चरित्र को लेकर सवाल उठाए जाएंगे।”

उन्होंने इंटरव्यू के दौरान बताया कि इस प्रकार का डर उन लड़कियों को अधिक सताता है, जो घर से दूर रहती हैं। वे शायद इसी बात को लेकर खौफ खाती हों कि आगे उनके साथ क्या होगा। यही वजह हो सकती है, जिसके कारण वह पीछे हट जाती हों और मन में बातें दबा ले जाती हों।

तापसी ने 2013 में ‘चश्मे बद्दूर’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। बेबी और नाम शबाना फिल्म के अलावा उन्होंने 2016 में आई पिंक में भी काम किया। वह इसमें सशक्त महिला के किरदार में नजर आई थीं। वह इन दिनों सूरमा और मुल्क जैसी फिल्मों की शूटिंग में व्यस्त हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App