ताज़ा खबर
 

शशि कपूर के लिए पाकिस्तान भी गमगीन, पेशावर में आयोजित हुई शोकसभा

शशि कपूर की याद में पेशावर के लोगों ने आयोजित की शोक सभा।
शशि कपूर की यादें

4 दिसंबर को बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार शशि कपूर का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में निधन हो गया था। उनके चले जाने से जहां पूरी हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर है वहीं पड़ोसी देश पाकिस्तान भी गमगीन है। उन्हें पेशावर का गौरव मानते हुए पेशावर के लोगों ने याद किया। ओमार आर कुरैशी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है। जिसे उन्होंने कैप्शन दिया है- पेशावर के लोगों ने शशि कपूर- पेशावर के गौरव की याद में एक शोकसभा का आयोजन किया।

जिन लोगों को शशि कपूर के परिवार का पाकिस्तानी कनेक्शन नहीं पता है उन्हें बता दें कि कपूर परिवार का एक घर पाकिस्तान के पेशावर में है। इसे पृथ्वीराज कपूर के पिता दीवान बशेश्वरनाथ कपूर ने साल 1918 से 1922 के बीच में बनाया था। पृथ्वीराज कपूर खानदान के पहले ऐसे सदस्य थे जिन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था। भारत और पाकिस्तान के विभाजन के बाद कपूर हमेशा के लिए भारत में बस गए थे। इसी वजह से शशि कपूर के निधन से पाकिस्तान के पेशावर में लोग दुखी हैं।

शशि ने पिता के कहने पर महज चार साल की उम्र में एक्टिंग करना शुरू कर दिया था। बाल कलाकार के तौर पर उनकी पहली फिल्म 1948 में आई आग थी। इसके बाद साल 1951 में आई आवारा में उन्होंने अपने बड़े भाई राजकपूर के बचपन का किरदार निभाया था। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में शशि ने लीड एक्टर के तौर पर धर्मपुत्र से डेब्यू किया था। इसके बाद उन्होंने 148 फिल्मों में काम किया। उन्हें दीवार, सत्यम शिवम सुंदरम, त्रिशूल और कभी कभी जौसी हिट फिल्मों के लिए जाना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.