आप तो अंग्रेजों से भी आगे निकल गए- पेगासस का जिक्र कर पीएम मोदी पर भड़के बॉलीवुड एक्टर, पूर्व IAS ने कहा- खुद करनी होगी लोकतंत्र की रक्षा

पेगासस जासूसी मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई हुई जहां केंद्र सरकार ने एफिडेविट दाखिल करने से इनकार कर दिया। इस मसले पर बॉलीवुड एक्टर कमाल राशिद खान (KRK) ने नरेंद्र मोदी सरकार को निशाने पर लिया है।

pegasus spyware, narendra modi, surya pratap singh
नरेंद्र मोदी सरकार पर पेगासस का इस्तेमाल कर जासूसी के आरोप लगे हैं (Photo-Indian Express/File)

पेगासस जासूसी मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई हुई जहां केंद्र सरकार ने एफिडेविट दाखिल करने से इनकार कर दिया। सरकार के इस रुख पर सुप्रीम कोर्ट ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पत्रकारों और नामी लोगों द्वारा जासूसी की शिकायत का मामला गंभीर है इसलिए कोर्ट जानना चाहता है कि क्या सरकार ने ऐसा कोई माध्यम इस्तेमाल किया जो गैरकानूनी है। इस सुनवाई पर बॉलीवुड एक्टर कमाल राशिद खान (KRK) ने नरेंद्र मोदी सरकार को निशाने पर लिया है।

उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से सोमवार को किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘भक्तों की नौकरी गई देश हित में! भक्तों के कपड़े उतर गए देश हित में! भक्त बेचारे फ़क़ीर हो गए देश हित में! भक्त बेचारे समोसे और चाय बेच रहे हैं देश हित में! अब पेगासस जासूसी कांड भी देश हित में! कमाल करते हो मोदी जी! आपकी चालें तो अंग्रेजों से भी आगे निकल गई!।’

एक और ट्वीट में केआरके ने लिखा, ‘पुराने वक्त ने जमींदार गरीबों को पढ़ाई नहीं करने देते थे ताकि लोग अनपढ़ रहें अगर उनके लिए खेतों में काम करते रहें। साहब भी ठीक उसी फॉर्मूले पर काम कर रहे हैं। ताकि लोग अनपढ़ रहें और वो हमेशा के लिए उन पर शासन करें, उनके दिमाग से खेल सकें।’

रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने भी पेगासस जासूसी प्रकरण की कोर्ट में सुनवाई पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट किया है, ‘आज सुप्रीम कोर्ट में सरकार के रूख से साफ हो गया। सामान्य नागरिकों की गैरकानूनी ढंग से जासूसी की गई है। ये किसी भी सरकार के लिए शर्म की बात है कि वह अपने नागरिकों की इस स्तर तक जासूसी करे। हमें आगे आना होगा, हमें लोकतंत्र की रक्षा खुद करनी होगी।।’

कांग्रेस नेता श्रीनिवास बी वी ने भी पेगासस सुनवाई पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘सुप्रीम कोर्ट में जासूसी कांड पर मोदी सरकार ने एफिडेविट दाखिल करने से किया इनकार.. मोदी जी कागज नहीं दिखाएंगे?’

बता दें, पेगासस इजरायल की निजी कंपनी NSO का एक सॉफ्टवेयर है। पिछले दिनों अंतरराष्ट्रीय पत्रकारों के एक ग्रुप ने दावा किया है कि इसका इस्तेमाल कर 10 देशों के 5000 लोगों की जासूसी की गई। भारत के 300 लोगों के नाम भी इसमें शामिल बताए गए जिनमें पत्रकार, नेता, समाजजिक कार्यकर्ता, जज आदि शामिल थे।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट