ताज़ा खबर
 

Mahabharat 6 April Episode: हस्तिनापुर लौटे पांडु पुत्र, धृतराष्ट्र को सताने लगी दुर्योधन की चिंता

Mahabharat 6 April Episode: हस्तिनापुर नरेश धृतराष्ट्र पांडवों के आगमान से दुर्योधन के भविष्य को लेकर चिंतित हो गए।

महाभारत के आज के एपिसोड में ये है खास

Mahabharat 6 April Episode: कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन में लोग घर बैठे टीवी पर आ रहे पुराने धारावाहिकों का आनंद ले रहे हैं। महाभारत और रामायण के री-टेलीकास्ट ने जहां बड़ों की पुरानी यादें ताजा कर दी हैं वहीं, बच्चे भी बड़ी जिज्ञासा के साथ इन धारावाहिकों का आनंद ले रहे हैं। दर्शक बी.आर चोपड़ा की इस ऐतिहासिक धारावाहिक को दूरदर्शन पर दोपहर 12 बजे और शाम को 7 बजे देख सकते हैं। 28 मार्च से शुरू हुए महाभारत की कहानी इस वक्त हस्तिनापुर में पांडवों और कौरवों के इर्द-गिर्द घूम रही है।

पिछले एपिसोड में दिखाया गया कि कैसे पांडु की मृत्यु के बाद कुंती पांडवों समेत हस्तिनापुर लौट आईं। इधर, हस्तिनापुर नरेश धृतराष्ट्र पांडवों के आगमान से दुर्योधन के भविष्य को लेकर चिंतित हो गए। गांधारी उन्हें सांत्वना देते हुए कहती हैं कि जिसके भाग्य में जो होता है वो उसे मिलकर ही रहता है। इस पर धृतराष्ट्र कहने लगे कि क्या ये खोटा भाग्य मेरे और मेरे बालकों के लिए ही है। इस बीच दुर्योधन पांडु पुत्रों के साथ दुराचरण करता है जिससे भीम को उस पर बहुत क्रोध आता है। वहीं, पितामह भीष्म हस्तिनापुर के साम्नाज्य को लेकर बेहद चिंतित हैं। वो विदुर से कहते हैं कि पांडवों को शिक्षा-दीक्षा के लिए कृपाचार्य के आश्रम भेजना ही उचित होगा।

कुंती और गांधारी ने एक-दूसरे से कही मन की बात। गांधारी कहने लगीं कि वो उनके और पांडवों के आने से बहुत खुश हैं लेकिन युधिष्ठिर दुर्योधन से ज्येष्ठ है, ये बात उनको कुछ देर के लिए खटकी जरूर। इधर, शकुनि धृतराष्ट्र को अपने बेटों की फिक्र करने की सलाह दे रहे हैं। दुर्योधन भी अपने मामा की बातों में हां में हां मिलाते हुए राजा से कहता है कि वो पांडवों को यहां से कहीं दूर भेज दें।

Live Blog

Highlights

    19:59 (IST)06 Apr 2020
    युधिष्ठिर ने भीम को दिया आदेश

    युधिष्ठिर ने भीम को दुर्योधन से झगड़ा ने करने के लिए कहा। माता कुंती ने भी उनसे यही कहा, साथ ही इस घटना के बारे में और किसी को न बताने का आदेश भी दिया।

    19:57 (IST)06 Apr 2020
    भीम को मिली दस हाथियों की ताकत

    कुंती पुत्र भीम जब नागलोक के अंदर गए तो वहां उनकी मुलाकात अपने परनाना से हुई। उन्होंने भीम से पूछा कि क्या कुंती को मालूम है कि वो यहां है, इसपर भीम ने अपने साथ घटित घटना के बारे में बताया। उनके परनाना ने उन्हें सुधा रस पीने को दिया जिससे उनमें 10 हाथी के बराबर शक्ति आ गई।

    19:45 (IST)06 Apr 2020
    दुर्योधन ने भीम के खिलाफ रची ये साजिश

    तालाब के किनारे अकेले बैठे भीम को परेशान करने के लिए दुर्योधन ने दुश्शासन की मदद से साजिश रचा। भीम को नशीली खीर खिलाकर उन्हें बंधक बनाकर गंगा जी में फेंक दिया। इधर, काफी देर तक जब भीम वापस नहीं लौटे तो युधिष्ठिर बेहद परेशान हो गए। दुर्योधन ने जब ये घटना शकुनि को बतायी तो वो बहुत खुश हो गए और कहने लगे कि मेरे किसी लक्ष्य ने मुझे यहां रोक रखा है।

    19:41 (IST)06 Apr 2020
    युधिष्ठिर ने लिया विदुर से आशीर्वाद

    पांडु के ज्येष्ठ पुत्र युधिष्ठिर महा ज्ञानी विदुर से आशीर्वाद लेते हैं। इसके पश्चात विदुर ने उनसे पूछा कि इस समय तुम यहां क्या कर रहे हो। इस पर वो कहने लगे कि दुर्योधन और भीम में बनती नहीं है इसलिए वो ज्ञानशाला से महल लौट आएं। इधर, भीम के डर से अर्जुन भीष्म की गोद में बैठ गए।

    19:37 (IST)06 Apr 2020
    शकुनि पढ़ा रहा दुर्योधन को पट्टी

    दुर्योधन का मामा शकुनि चौपर का खेल खेलते हुए अपने भांजे को कटुनीति सिखा रहा था। अपने भाइयों के प्रति भड़काते हुए शकुनि दुर्योधन से कहता है कि वो ही हस्तिनापुर के असली उत्तराधिकारी हैं।

    19:33 (IST)06 Apr 2020
    6 अप्रैल शाम 7 बजे का एपिसोड :

    आज के एपिसोड में कर्ण को दिखाया गया। सुरथ पुत्र कर्ण सारथी ना बनकर धनुष-बाण चलाना चाहते हैं। वो अपने पिता से कहते हैं कि जाति का भेद तो कर्म के जरिए होना चाहिए। इधर, ऋषि ने कर्ण से भिक्षा मांगी तो उन्होंने अपने दान से उनको प्रसन्न कर दिया। ऋषि ने उनको वरदान देते हुए कहा कि तुम्हारी सभी इच्छा पूर्ण हो।

    Next Stories
    1 ‘सेलेब्स सबसे आसान टार्गेट’, इंटीमेट तस्वीरों पर किया ट्रोल तो सुष्मिता सेन की भाभी ने ऐसे दिया जवाब
    2 कोरोना वायरस पर बोले सलमान खान- ‘बहादुरी से कहता हूं मैं इस महामारी से डर गया हूं, 3 सप्ताह से पिता से नहीं मिला’
    3 अनुराग कश्यप बोले, डॉक्टर-नर्स सुरक्षित नहीं रहे तो थाली बजाओ या दीया जलाओ, अंत निश्चित, आने लगे ऐसे कमेंट