ताज़ा खबर
 

 UN में पाकिस्तान की महिला दूत ने ऑस्कर पाने वाले पहले मुस्लिम एक्टर महर्रशेला अली तारीफ की, तो हुई आलोचना   

महर्रशेला अली अहमदिया समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और पाकिस्तान में अहमदिया समुदाय को गैर मुस्लिम मानता है।

अभिनेता महेरशला अली अभिनय के लिए ऑस्कर जीतने वाले पहले मुस्लिम बन गए हैं।

दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित फिल्म अवॉर्ड ऑस्कर की घोषणा सोमवार को अमेरिकी के लॉज एंजिल्स में की गई। इस अवॉर्ड फंक्शन में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर की रेस में भारतीय मूल के एक्टर देव पटेल भी थे। लेकिन इस श्रेणी में अवार्ड जीता अमेरिकी अश्वेत मुस्लिम एक एक्टर महर्रशेला अली ने। लेकिन इसके बाद उनके अहमदिया सांप्रदाय के होने के कारण विवाद बढ़ने लगा। यूनाइटेड नेशन में पाकिस्तान की दूत मलीहा लोधी ने महर्रशेला अली की तारीफ में किया गया ट्वीट किया। जिसे बाद उन्हें दबाव के चलते डिलीट करना पड़ा। महर्रशेला अली अहमदिया समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और पाकिस्तान में अहमदिया समुदाय को गैर मुस्लिम मानता है। भारी आलोचना के बाद मलीहा लोधी ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया है.

43 वर्षीय महर्रशेला अली ने अपने करियर की शुरुआत 2001 में टीवी सीरीज ‘क्रॉसिंग जॉर्डन’ से की थी। हॉलीवुड में उनकी पहली फिल्म मेकिंग रेव्यूलेशन थी, यह फिल्म 2003 में आई थी। साल 2016 में आई मूनलाइट के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड जीतने के साथ ही वह ऑस्कर जीतने वाले पहले मुस्लिम बने। मेहरशला अली 1999 में अहमदिया समुदाय से जुड़े थे। एक समय में पाकिस्तान में अहमदिया बड़ी भारी संख्या में रहते थे। लेकिन फिर बाद के सालों में उत्पीड़न बढ़ने पर एक एक करके अहमदिया समुदाय के लोगों ने यूरोप में शरण लेनी शुरू कर दी। पाकिस्तान की अहमदिया आबादी अक्सर उत्पीड़न और भेदभाव की शिकायत करती है। इस समुदाय के लोग अभिव्यक्ति की आजादी, धर्म और मतदान के अधिकार आदि बुनियादी नागरिक अधिकारों से भी दूर हैं। पाकिस्तान उन्हें मुसलमान ना मानकर अल्पसंख्यक का दर्जा दिया जाता है।

 

 

अमिताभ बच्चन ने वरुण धवन और आलिया भट्ट के साथ चैरिटी के लिए किया रैंप वॉक

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App