ताज़ा खबर
 

पद्मावती विवाद: 2018 तक टल सकती है फिल्‍म की रिलीज! 190 करोड़ की फिल्‍म का प्रोड्यूसर्स ने रोका प्रमोशन

सीबीएफसी (सेंसर बोर्ड फॉर फिल्म सर्टिफिकेशन) के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने IFFI (International Film Festival of India) में कहा कि हम बाकी बची प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं।
Author नई दिल्ली | November 21, 2017 15:05 pm
पद्मावती के एक दृश्‍य में दीपिका पादुकोण। (Photo: Screenshot/YouTube)

विवादित फिल्म ‘पद्मावती’ की रिलीज डेट को आगे खिसका दिया गया है। यह खबर जंगल में आग की तरह लोगों में फैल गई। फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे फैन्स को दुख हुआ लेकिन अब अगला सवाल यह है कि फिल्म कब रिलीज होगी। तो आपको बता दें कि फिल्म की रिलीज डेट अगले सात तक पोस्टपोन हो सकती है। 190 करोड़ के बजट से बन रही इस फिल्म का प्रोमोशन भी रोक दिया गया है। शायद मेकर्स चाहते हैं कि फिल्म की अगली रिलीज डेट आने पर उस हिसाब से इसके प्रमोशन का सिलसिला शुरू किया जाए। फिल्म कि रिलीज डेट आगे खिसकाए जाने के जहां तक कारणों का सवाल है तो बताया जा रहा है कि कागजी कार्रवाई और इसके थ्रीडी वर्जन का काम पूरा नहीं हो पाने के चलते ऐसा किया गया है।

सीबीएफसी (सेंसर बोर्ड फॉर फिल्म सर्टिफिकेशन) के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने IFFI (International Film Festival of India) में कहा कि हम बाकी बची प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। हमें बातचीत करके बात का हल निकालना होगा बहस करके नहीं। मालूम हो कि राजपूत समाज के कुछ समूह फिल्म के कुछ कथित दृश्यों को लेकर आपत्ति जता रहे हैं। फिल्म में ऐसा कहा जा रहा है कि अलाउद्दीन खिलजी (रणवीर का किरदार) और रानी पद्मावती (दीपिका पादुकोण का किरदार) के बीच कुछ रोमांटिक दृश्य दिखाए गए हैं। हालांकि निर्देशक संजय लीला भंसाली और फिल्म की स्टार कास्ट इस बात का लगातार विरोध करती रही है।

कई राजनेता और टीवी स्टार्स भी फिल्म का विरोध कर चुके हैं। बता दें कि हाल ही में टाइम्स नाऊ से बातचीत में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- फिल्म को लेकर हो रहे प्रदर्शनों और धमकियों के लिए संजय लीला भंसाली भी समान रूप से जिम्मेदार हैं, जो जनभावनाओं से खिलवाड़ करने के आदी बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस मसले पर उपद्रवी प्रदर्शनकारियों और फिल्म निर्माताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.