ताज़ा खबर
 

पद्मावत: यहां के राजपूतों ने देखी पद्मावत, बोले- फिल्म में सब ठीक है, वापस लिया विरोध

फिल्म देखने के बाद राजपूत महासभा के अध्यक्ष दविन्दर दर्शी ने कहा कि हम पहले इसका विरोध कर रहे थे, जिसकी वजह से सिनेमा बनाने वालों को इसमें 300 कट लगाने पड़े। उन्होंने कहा, 'आज हमने फिल्म देखी, इसमें राजपूत समाज के खिलाफ कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है।'

Author January 25, 2018 1:06 PM
पंजाब के पठानकोट में फिल्म पद्मावत के लिए विशेष स्क्रीनिंग रखी गई।

पंजाब के राजपूत महासभा ने फिल्म पद्मावत का विरोध वापस ले लिया है। बुधवार (24 जनवरी) को राजपूत समाज से जुड़े लोगों ने पठानकोट में एक स्पेशल स्क्रीनिंग में फिल्म पद्मावत देखी। जिला प्रशासन ने इस स्क्रीनिंग का शाम 6 बजे से 9 बजे के बीच आयोजन किया था। राजपूत महासभा अबतक इस फिल्म का विरोध कर रही थी। फिल्म देखने के बाद राजपूत महासभा के अध्यक्ष दविन्दर दर्शी ने कहा कि हम पहले इसका विरोध कर रहे थे, जिसकी वजह से सिनेमा बनाने वालों को इसमें 300 कट लगाने पड़े। उन्होंने कहा, ‘आज हमने फिल्म देखी, इसमें राजपूत समाज के खिलाफ कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है, अब हम संतुष्ट हैं और फिल्म के रिलीज होने से हमें कोई परेशानी नहीं है।’ दविन्दर दर्शी ने कहा कि राजपूत समुदाय के 30 नेताओं ने प्रशासन के अनुरोध पर फिल्म देखी है और इसमें अब कोई विवाद नहीं रह गया है। उन्होंने कहा कि पंजाब के ज्यादातर सिख और हिन्दू राजपूत पठानकोट, होशियारपुर और गुरदास पुर जिले में बसे है। दर्शी के मुताबिक उनके संगठन की शाखाएं और पदाधिकारी दूसरे जिलों में भी है और अब इसमें विवाद नहीं रह गया है। राजपूत समुदाय से जुड़े कांग्रेस के कुछ स्थानीय नेताओं ने भी इस विवाद को सुलझाने में भूमिका निभाई।

पठानकोट के एसएसपी विशाल सोनी ने कहा कि पद्मावत जिले के चार थियेटर में दिखाई जाएगी। उन्होंने बताया था कि वह भरोसा दिला सकते हैं कि यहां पर कोई दिक्कत नहीं होगी। विशाल सोनी ने कहा, ‘किसी ने फिल्म का विरोध नहीं किया है, ना ही हमें किसी हंगामे की आशंका है, यहां तक कि राजपूत समुदाय के नेताओं ने इसे देखने के बाद फिल्म की तारीफ की है। पठानकोट के कांग्रेस से जुड़े एक स्थानीय पार्षद योगेन्दर ठाकुर प्रसाद ने कहा कि प्रशासन ने राजपूत समुदाय को फिल्म दिखाकर उनका विश्वास जीत लिया है। अब सभी गलत धारणाएं दूर हो गईं हैं। उन्होंने कहा, ‘हम सुझाव देते हैं कि देश भर के राजपूत सदस्यों को यह फिल्म देखनी चाहिए क्योंकि इसमें राजपूताना गर्व को दिखाया गया है, फिल्म में रानी पद्मावती के चरित्र से किसी किस्म की छेड़छाड़ नहीं की गई है उन्हें और भी गौरवान्वित किया गया है। बता दें कि विवादों के बीच फिल्म पद्मावत आज रिलीज हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App