ताज़ा खबर
 

‘पद्मावती’ पर बैन लगा सकती है गोवा सरकार! मनोहर पर्रिकर ने कहा- नहीं ले सकते खतरा मोल

गोवा में भाजपा की महिला मोर्चा ने मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को ज्ञापन सौंपकर पद्मावती को बैन करने की मांग की।

पद्मावती पर बैन चाहता है गोवा भाजपा का महिला मोर्चा।

शाहिद कपूर, दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह की फिल्म पद्मावती पर जारी विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब गोवा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की महिला मोर्चा के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को एक ज्ञापन-पत्र सौंपा है। जिसमें उनका कहना है कि संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर बैन लगाया जाना चाहिए। महिला मोर्चा का कहना है कि पर्यटन उन्मुख राज्य जैसे कि गोवा कानून व्यवस्था से संबंधित खतरा नहीं उठा सकता है। प्रतिनिधि मंडल से मिलने के बाद मुख्यमंत्री ने गुरुवार को पत्रकारों से बात की।

मनोहर पर्रिकर ने कहा कि वो इस मांग पर तभी ध्यान देंगे जब फिल्म को सेंसर बोर्ड सर्टिफिकेट दे देगा। उन्होंने कहा- सबसे पहले तो उन्होंने रानी पद्मावती को गलत तरीके से दिखाया है जिसे सेंसर बोर्ड देख रहा है। इसलिए मुझे उम्मीद है कि वो इसे ध्यान में रखेंगे। दूसरा मामला कानून व्यवस्था का है। जिसका पर्यटन राज्य होने की वजह से गोवा खतरा मोल नहीं ले सकता। हम दोनों ही पहलुओं पर ध्यान देंगे। अभी क्योंकि इसे सेंसर से सर्टिफिकेट नहीं मिला है, इसी वजह से हम सर्टिफिकेट मिलने के बाद इसपर कोई कदम उठाएंगे।

गोवा के मुख्यमंत्री ने आगे कहा- मेरा निजी मानना यह है कि इतिहास को सही तरीके से दिखाया जाना चाहिए। अगर इतिहास को गलत तरीके से दिखाया जाता है तो इससे लोगों की भावनाएं आहत हो जाती हैं। इसी बीच महिला मोर्चा की एक महिला ने कहा- गोवा शांतिपूर्ण भूमि है। हम चाहते हैं कि और ज्यादा पर्यटक यहां आएं। यहां शांति और सौहार्द्र बनाए रखने के लिए महिला मोर्चा ने यह सावधानी बरत रही है। फिल्म में गलत इतिहास को दिखाया गया है। हम अपने बच्चों को गलत इतिहास नहीं पढ़ा सकते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App