ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान में ‘पद्मावत’ को हरी झंडी, सेंसर बोर्ड ने बिना कैंची चलाए दी मंजूरी

इससे पहले ऐसा कहा जा रहा था कि दिल्ली सल्तनत के मुस्लिम शासक अलाउद्दीन खिलजी की नकारात्मक छवि पेश करने के कारण इस फिल्म पर कैंची चलाई जा सकती है।

Author इस्लामाबाद | January 25, 2018 4:50 PM
Padmavati Box Office Collection: फिल्म ‘पद्मावत’ में दीपिका पादुकोण। (Photo Source: Instagram)

पाकिस्तान के सेंसर बोर्ड ने विवादित भारतीय फिल्म ‘पद्मावत’ के किसी भी दृश्य पर बिना कैंची चलाए देश में स्क्रीनिंग के लिए मंजूरी दे दी है। इस्लामाबाद स्थित सेंट्रल बोर्ड आॅफ फिल्म सेंसर्स (सीबीएफसी) के अध्यक्ष मोबशीर हसन ने सोशल मीडिया पर घोषणा की कि बोर्ड ने फिल्म को पास कर दिया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘‘सीबीएफसी ने भारतीय कलाकारों वाली फीचर फिल्म पद्मावत के किसी भी दृश्य पर बिना कैंची चलाए यू सर्टिफिकेट के साथ सिनेमाघरों में दिखाने की घोषणा की है।’’ इस मंजूरी के साथ ही संजय लीला भंसाली की पीरियड फिल्म पाकिस्तान में रिलीज होने के लिए तैयार है। पहले ऐसा कहा जा रहा था कि दिल्ली सल्तनत के मुस्लिम शासक अलाउद्दीन खिलजी की नकारात्मक छवि पेश करने के कारण इस फिल्म पर कैंची चलाई जा सकती है। हसन ने कहा, ‘‘सीबीएफसी कला, रचनात्मकता और स्वस्थ मनोरंजन में लेकर पक्षपात नहीं करता।’’

वहीं दूसरी तरफ, भारत में अभिनेत्री दीपिका पदुकोण की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘पद्मावत’ आखिरकार गुरुवार को रिलीज हो गई है और उनका मानना है कि यह बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाएगी। ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर आधारित संजय लीला की फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रही दीपिका फिल्म को मिली प्रतिक्रिया से अभिभूत हैं। 23 जनवरी को दिल्ली और मुंबई में पत्रकारों को यह फिल्म दिखाई गई थी।

उन्होंने बुधवार रात संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं इस समय बहुत ही अभिभूत और भावुक हूं। मुझे लगता है कि इस फिल्म ने बहुत कुछ झेला है। आखिरकार यह फिल्म प्रदर्शित हो रही है और फिल्म, मेरे अभिनय को लेकर जिस तरह की प्रतिक्रिया मिल रही है, उससे मैं अभिभूत हूं।’’ अभिनेत्री मुंबई में हिन्दुस्तान टाइम्स इंडिया मोस्ट स्टाइलिश अवॉर्ड कार्यक्रम में बोल रही थी।

‘पद्मावत’ फिल्म में शाहिद कपूर और रणवीर सिंह भी मुख्य भूमिकाओं में हैं। पिछले साल राजस्थान में फिल्म की शूटिंग के दौरान करणी सेना वालों के हंगामे के साथ ही फिल्म विवादों में घिर गई थी। पहले यह फिल्म एक दिसंबर को सिनेमा घरों में प्रदर्शित होने वाली थी। हालांकि, सेंसर बोर्ड से मंजूरी नहीं मिलने के कारण वॉयकॉम 18 और भंसाली प्रोडक्शन के निर्माताओं ने रिलीज की तारीख आगे बढ़ा दी। सेंसर बोर्ड ने फिल्म का नाम ‘पद्मावती’ से बदल कर ‘पद्मावत’ करने सहित फिल्म में कुल पांच बदलाव करने का सुझाव दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App