Padmavat Movie Protest, Padmavati Movie Release Date Latest News: Veteran Actor Nana Patekar said people react on wrong film - पद्मावत विवाद: नाना पाटेकर का बड़ा बयान, बोले- गलत फिल्म बनाएंगे तो लोग रिएक्ट जरूर करेंगे - Jansatta
ताज़ा खबर
 

पद्मावत: नाना पाटेकर का बड़ा बयान, बोले- गलत फिल्म बनाएंगे तो लोग रिएक्ट जरूर करेंगे

Padmavat Movie Protest: नाना पाटेकर ने ये भी कहा कि, 'मेरी फिल्म में कभी कोई कांट्रोवर्सी नहीं हुई, मैंने क्रांतिवीर जैसी फिल्में बनाई, बोल्ड स्टेटमेंट होने के बावजूद उन पर कभी कोई बवाल नहीं हुआ। जरूरी है इस बात को याद रखना कि आप फिल्म क्या सोचकर बना रहे हैं।

नाना पाटेकर और दीपिका पादुकोण।

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत का रिलीज से पहले देश भर में जमकर विरोध हो रहा है। फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है। फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिका में हैं। इस फिल्म को लेकर बॉलीवुड के सीनियर एक्टर नाना पाटेकर ने अपनी राय रखी है। पद्मावत पर मीडिया के सवालों का जवाब देते नाना पाटेकर का वीडियो इन दिनों इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि जब उनसे पूछा गया कि सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर हरी झंडी दे दी है लेकिन जिस तरह का विरोध हो रहा है. ऐसे में क्या किसी ऐतिहासिक फिल्म को आज के समय में बनाना मुश्‍किल है? इस सवाल के जवाब में नाना पाटेकर ने कहा कि, ‘कोई भी चीज मुश्किल नहीं है। फिल्मों पर बवाल होना आम बात है। जब मूवी को सेंसर से ग्रीन सिग्नल मिल गया तो वो रिलीज होगी। हालांकि सही विषय पर फिल्म बनाएं। आप सही फिल्म बनाएंगे तो लोग रिएक्ट नहीं करेंगे। आप गलत फिल्म बनाएंगे तो लोग रिएक्ट जरूर करेंगे।’

मीडिया ने नाना पाटेकर से ये भी पूछा कि सिनेमा कोई टेक्सट बुक नहीं है जिस पर आप रोक लगाए। इसपर नाना पाटेकर ने साफ कहा कि,  ‘विरोध गलत है, लेकिन इतिहास से छेड़खानी करेंगे तो उससे जुड़े लोगों को बुरा लगना स्वाभाविक है। फिल्म बनाते वक्त मेकर्स की जिम्मेदारी होती है कि किसी को ठेस नहीं पहुंचे।’

मराठी फिल्म अपाल मानुष की स्‍क्रीनिंग पर पहुंचे नाना पाटेकर ने कहा कि, ‘फिल्म रिलीज होने दो आपको पता चल जाएगा कि वो अच्छी है या बकवास है। कानून से बड़ा कोई नहीं, आज भी कानून है, कल भी कानून ही सबसे बड़ा रहेगा।’

नाना पाटेकर ने ये भी कहा कि, ‘मेरी फिल्म में कभी कोई कांट्रोवर्सी नहीं हुई, मैंने क्रांतिवीर जैसी फिल्में बनाई, बोल्ड स्टेटमेंट होने के बावजूद उन पर कभी कोई बवाल नहीं हुआ। जरूरी है इस बात को याद रखना कि आप फिल्म क्या सोचकर बना रहे हैं। आप सब्जेक्ट को कैश कराना चाहते हैं या फिर आप सच में कोई कड़ा संदेश समाज को देना चाहते हैं। तुम्हारे अंदर कितनी सच्चाई है वो आंखों में दिखाई दे जाती है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App