महाभारत के युधिष्ठिर ने गिनाए सबसे ज़्यादा ऑक्सीजन देने वाले छह पेड़ों के नाम, इन्हें लगाने की सलाह दी तो लोग करने लगे ट्रोल

देश में ऑक्सीजन की गंभीर किल्लत पर गजेंद्र चौहान ने एक टिप्पणी की है जिसके बाद यूजर्स उन्हें ट्रोल कर रहे हैं। उन्होंने लोगों को सुझाव दिया कि लोग ऑक्सीजन देने वाले पेड़ लगाएं।

gajendra chauhan, oxygen crisis,, covid 19गजेंद्र चौहान के ट्वीट पर लोग उन्हें ट्रोल कर रहे हैं (Photo-Indian Express Archive)

कोविड-19 की स्थिति भारत में विकराल रूप ले चुकी है। देश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी हो गई है जिससे हर रोज मरीज मर रहे हैं। ऑक्सीजन की कमी को लेकर केंद्र सरकार के प्रयास विफल साबित हो रहे हैं लेकिन सरकार कह रही है कि वो सभी राज्यों में पर्याप्त ऑक्सीजन सप्लाई कर रही है। इधर राज्य सरकारें यह कह रही हैं कि उन्हें पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल रहा। देश में ऑक्सीजन को लेकर फैले अफरातफरी की चर्चा सोशल मीडिया पर भी खूब हो रही है। इसी बीच महाभारत में युधिष्ठिर का किरदार निभा चुके अभिनेता गजेंद्र चौहान ने एक टिप्पणी की है जिसके बाद उनके ट्वीट पर यूजर्स खूब टिप्पणी कर रहे हैं।

गजेंद्र चौहान ने अपने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा कि लोग ऑक्सीजन देने वाले पेड़ लगाएं। उन्होंने लिखा, ‘सबसे ज्यादा ऑक्सीजन देने वाले 6 पेड़ जो रखते हैं पर्यावरण को शुद्ध – पीपल का वृक्ष, बरगद का वृक्ष, नीम का वृक्ष, अशोक का वृक्ष, अर्जुन का वृक्ष, जामुन का वृक्ष। निवेदन – अधिक से अधिक मात्रा में इन वृक्षों को अपने अपने कालोनी- कस्बों में लगाएं।’

गजेंद्र चौहान के इस ट्वीट पर कुछ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा हालांकि कई लोग उनके समर्थन में भी दिखे। राजपुरोहित सिंह नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘ऐसे विशाल नीम के पेड़ हैं हमारे गांव में जिनकी संख्या करीब 50 होगी।’ संदीप कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘कोरोना वॉर्ड में भी लगा देते एक- एक पेड़।’ अदिति नाम की एक यूजर ने तो गजेंद्र चौहान को ट्विटर से दूरी बनाने की सलाह दे डाली।

 

उन्होंने लिखा, ‘गजेंद्र जी, सेटिंग्स एंड प्राइवेसी में जाएं- अकाउंट सेलेक्ट करें- डिएक्टिवेट पर क्लिक करें। कुछ दिनों का विश्राम दें अपने इस बुद्धिजीवी व्यक्तित्व को। हम सभी अभी इस ब्रह्म ज्ञान के लिए तैयार नहीं हैं।’

 

अतुल सेठ नाम से एक यूजर ने लिखा, ‘अपने साहब को बोलो कि जल्द से जल्द ऑक्सीजन प्लांट लगाएं। पेड़ का ऑक्सीजन अस्पताल में काम नहीं आता।’

 

गिरीश नाम के एक यूजर ने व्यंगात्मक अंदाज में गजेंद्र चौहान को जवाब दिया, ‘पेड़ों की क्या जरूरत जब हमारे पास गाय है।’ आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर एक तस्वीर तैर रही थी जिसमें एक व्यक्ति गाय के मुंह से ऑक्सीजन लेने की कोशिश कर रहा था।

Next Stories
1 कंगना रनौत के साथ काम करने से इरफ़ान खान ने किया था मना, कही थी ये बात; देखें Video
2 ऑक्सीजन प्लांट्स पहले बनाते तो आग लगने के बाद कुआं नहीं खोदते- बोलीं अंजना ओम कश्यप तो संबित पात्रा ने दिया ये जवाब
3 ‘मेरी मर्जी मैं तो घूरूंगा’, रास्ते से जा रहीं फातिमा सना शेख को घूसा मार भाग गया था मनचला, एक्ट्रेस ने ऐसे किया था हैंडल
यह पढ़ा क्या?
X