ताज़ा खबर
 

अडानी-अंबानी के बहिष्कार पर बोले पुण्य प्रसून बाजपेयी,’ किसानों ने मोदी सत्ता की नब्ज पकड़ी’; आने लगे ऐसे कमेंट

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट करते हुए लिखा है,'किसानों ने मोदी सत्ता की नब्ज पकड़ी। अंबानी-अडानी के बॉयकॉट का किया ऐलान..'

Author Edited By यतेंद्र पूनिया Updated: December 10, 2020 1:13 PM
पुण्य प्रसून बाजपेयी ने किसानों की तारीफ की

नए कृषि बिलों का विरोध कर रहे किसानों ने कल सरकार द्वारा भेजे गए प्रस्ताव को ठुकरा दिया है। किसान संगठनों के नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि अब किसान आंदोलन और तेज होगा। इसके साथ ही किसान आंदोलन के नेताओं ने अडानी-अंबानी के बहिष्कार की बात भी कही है।

अडानी-अंबानी के बहिष्कार पर पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी का ट्वीट भी सामने आया है। पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट करते हुए लिखा है,’किसानों ने मोदी सत्ता की नब्ज पकड़ी। अंबानी-अदानी के बॉयकॉट का किया ऐलान..’पुण्य प्रसून वाजपेयी के इस ट्वीट पर यूजर्स की तरह-तरह की प्रतिक्रिया सामने आ रही हैं।

हिमांशु प्रभात नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’किसी ने कहा था काम पसंद ना आये तो चौराहे पर बुला कर जूते मार देना.. अब किसान बुला रहा है मगर वो भाग रहा है।’ भागचंद नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’भाया हिम्मत है तो जबाव दो, क्या 2014 से पहले अडानी अंबानी गरीब और किसान मालदार व खुशहाल थे? थूककर मत चाटना सवाल का जबाव जरूर देना?’

एक‌ अन्य ट्विटर यूजर ने लिखा है,’अगर मोदीजी की नब्ज पकड़ना इतना ही आसान होता तो सारे विपक्षी दल सड़क पर दौड़ नहीं लगाते और सारे बिकाऊ क्रांतिकारी पत्रकार छाती न कूट रहे होते। भ्रष्ट और पापी, दुराचारी राक्षस जहां तक सोच सकते है, मोदीजी उसके आगे से सोचना शुरू करते है।’ सूर्य नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’किसान जो पंजाब से आए हैं वहीं अडानी का वेयरहाउस है, वहीं जाइए और धरना दीजिए। देश का पहला प्रोक्योरमेंट सेंटर है अडानी का जिसे कांग्रेस सरकार ने अनुमति दी।’

राजकुमार जैन नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’राजनैतिक दलों से प्रार्थना है कि अगर आपके जाने से आंदोलन कमजोर होता है तो आंदोलन से दूरी बना कर आंदोलन का समर्थन करते रहे।’ रमेश कुमार नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’जो भी किसान आंदोलन के समर्थन में हैं वो आज से रिलायंस की सिम,पेट्रोल पम्प और सभी प्रोडक्ट्स का पूरी तरह बॉयकॉट करें।’ अजय सिंह बब्लू नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा है,’नब्ज तो पारिवारिक दलों का पकड़ ली गई है जिनकी तुम दलाली किया करते थे। किसानों का शोषण में तुम लोगों की दलाली का बड़ा योगदान रहा।’

Next Stories
1 ’14 दिन से वो किसान ठंड में..’ पैनलिस्ट ने उल्टा पूछ लिया अर्नब गोस्वामी से ही सवाल, तो झट से बोल पड़े एंकर- इसका तो मैं जवाब दूंगा..
2 मां दुर्गा ने मुझे चुना है- मंदिर बनवाने का ऐलान करते हुए बोलीं कंगना रनौत
3 ‘किसने किसानों के आंदोलन को सियासी रंग दिया’, रजत शर्मा ने पूछा सवाल; मिलने लगे ऐसे जवाब
यह पढ़ा क्या?
X