ताज़ा खबर
 

एक्ट्रेस का टॉपलेस विरोध: मुंबई में होटल बुक कर प्रोड्यूसर लेते हैं ‘स्क्रीनटेस्ट’, जानें कैसे होता है कास्टिंग काउच

साउथ इंडियन फिल्मों की अभिनेत्री श्री रेड्डी ने फिल्मों में रोल देने के बहाने यौन शोषण यानी कास्टिंग काउच का टॉपलेस होकर विरोध किया। इस पर जहां उन्हें तमाम लोगों का समर्थन मिला है वहीं अपनी ही इंडस्ट्री के लोग खड़े नजर नहीं आ रहे हैं।

Author नई दिल्ली | April 9, 2018 15:42 pm
कास्टिंग काउच के विरोध में टॉपलेस विरोध प्रदर्शन करने वाली अभिनेती श्री रेड्डी (फोटो-सोशल मीडिया)

साउथ इंडियन फिल्मों की अभिनेत्री श्री रेड्डी ने फिल्मों में रोल देने के बहाने यौन शोषण यानी कास्टिंग काउच का टॉपलेस होकर विरोध किया।
इस पर जहां उन्हें तमाम लोगों का समर्थन मिला है वहीं अपनी ही इंडस्ट्री के लोग खड़े नजर नहीं आ रहे हैं। बहरहाल इस बहाने फिल्मी दुनिया में काम देने के बहाने निर्माता-निर्देशों की ओर से अभिनेत्रियों के शोषण पर फिर से बहस शुरू हो गई है। हैदराबाद स्थित फिल्म चेंबर ऑफिस के पास एक्ट्रेस के सार्वजनिक रूप से टॉपलेस होकर विरोध प्रदर्शन करने पर पुलिस ने अभिनेत्री को हिरासत में ले लिया था। उधर अभिनेत्री का कहना है कि टॉपलेस प्रदर्शन के बाद से मकान मालिक ने भी दूसरा घर खोज लेने को कहा है।

अभिनेत्री के मुताबिक कास्टिंग काउच की शिकायतों पर कार्रवाई न होने के विरोध में उन्होंने टॉपलेस प्रदर्शन का तरीका चुना। ताकि अभिनेत्रियों के यौन शोषण की तरफ सभी का ध्यान जाए। अभिनेत्री ने टॉलीवुड के कई बड़े निर्माता-निर्देशकों और अभिनेताओं पर काम के बदले में यौन शोषण के आरोप लगाए। कास्टिंग काउच करने वाले कई नामों का खुलासा करने की भी धमकी दी थी।विरोध प्रदर्शन के दौरान अभिनेत्री ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में संघर्षशील नवोदित अभिनेत्रियों को फिल्मों में 75 प्रतिशत काम का मौका मिलना चाहिए। साथ ही अपनी मांगें उचित प्लेटफॉर्म पर उठाने के लिए उन्हें तेलुगू फिल्म चैंबर में भी सदस्यता मिलनी चाहिए।

कैसे होता है कास्टिंग काउचः फिल्म या टीवी सीरियल्स में रोल पाने के लिए अभिनेत्रियों को डायरेक्टर, प्रोड्यूसर के सामने कई बार गुजरना पड़ता है। फिल्म इंडस्ट्री की भाषा में इसे स्क्रीनटेस्ट कहा जाता है। टॉलीवुड के सूत्रों के मुताबिक निर्माता-निर्देशक मुंबई के होटल में कमरा बुक करते हैं। फिर हीरोईन बनने की इच्छुक लड़कियों को स्क्रीनटेस्ट के लिए बुलाया जाता है। स्क्रीनटेस्ट के बहाने फिल्म निर्माण टीम से जुड़े प्रमुख लोग लड़कियों का यौन शोषण करने की कोशिश करते हैं। उनसे सेक्स की डिमांड की जाती है। बदले में अच्छा रोल और मोटा पैसा ऑफर किया जाता है। कुछ लड़कियां अभिनेत्री बनने के सपने को पूरा करने के लिए यह सौदा मंजूर कर लेती हैं तो कुछ अच्छा पैसा मिलने के कारण। पहले फिल्मों में रोल के बदले ही अभिनेत्रियों के कास्टिंग काउच की बातें सामने आती थीं, अब छोटे-छोटे टीवी सीरियल की अभिनेत्रियों के साथ भी ऐसा होने की खबरें सामने आने लगीं हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App