वो दिन कब आएगा जब PM मोदी बगैर स्क्रिप्ट के इंटरव्यू देंगे? कांग्रेस प्रवक्ता ने किया सवाल तो मुस्कुराने लगे संबित पात्रा

सुप्रिया श्रीनेत लाइव डिबेट में कहती हैं- ‘मैं अभी कांग्रेस पार्टी की प्रवक्ता होने के नाते नहीं पूछ रही हूं-इस देश की जनता होने के नाते मैं ये पूछना चाहती हूं कि वो दिन कब आएगा…

Supriya Shrinate, Sambit Patra, News 18 India, Amish Devgan, Congress spokesperson Supriya Shrinate,
कांग्रेस प्रवक्ता Supriya Shrinate, दूसरी तरफ बीजेपी नेता और प्रवक्ता संबित पात्रा

न्यूज 18 इंडिया की लाइव डिबेट में एंकर अमिश देवगन ने कांग्रेस नेता से एक सवाल किया। अमिश देवगन ने कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत से पूछा कि क्या आपको लगता है भारत में लोकतंत्र नहीं है? क्योंकि इन्हीं चुनावों के अंदर, इन्हीं चुनावों से मैडम गांधी या फिर श्रीमान राहुल गांधी दोनों चुनाव जीतकर आए हैं। दोनों लोकसभा के सदस्य हैं, इसी लोकतंत्र के प्रॉसेस से आपकी सरकार बनी है। छत्तीसगढ़ के अंदर राजस्थान के अंदर और पंजाब के अंदर? इसका जवाब देते हुए राहुल गांधी के बयान पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने BJP पर सियासत करने का आरोप लगाया।

सुप्रिया श्रीनेत लाइव डिबेट में कहती हैं- ‘मैं अभी कांग्रेस पार्टी की प्रवक्ता होने के नाते नहीं पूछ रही हूं-इस देश की जनता होने के नाते मैं ये पूछना चाहती हूं कि वो दिन कब आएगा जब प्रधानमंत्री मोदी 7 साल के कार्यकाल के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, बिना स्क्रिप्ट के इंटरव्यू करेंगे? कुछ ऐसे सवालों के जवाब देंगे जो संभवत: लोगों के कठिन और करारे लगें। कुछ अन-इजी बातें करेंगे? ‘

श्रीनेत ने आगे पूछा- ‘वो दिन शायद नहीं आएगा, वो आस सिर्फ आस ही रह जाएगी क्योंकि मोदी जी तो स्क्रिप्टे इंटरव्यूज करते हैं। टीपी पर पढ़कर बोलते हैं। वो सवालों का सामना ही नहीं करते हैं। मोरों की बात करते हैं। प्रधानमंत्री से आशा करना तो खैर हमारा भी हक है। इलैक्टॉरल एटॉक्रोसी एक शब्द है, इसके बारे में राहुल गांधी जी ने बात करी कि हां इस देश में चुनाव हो रहा है उस लोकतंत्र में हमें कोई दिक्कत नहीं।’

कांग्रेस प्रवक्ता ने आगे कहा- ‘दिक्कत ये है कि किस तरह से आज लोकतंत्र का देश में दमन हो रहा है। आज इस देश में पत्रकारों को, स्टूडेंट्स को, एक्टिविस्ट को सरकार की निंदा करने के लिए जेल जाना पड़ता है। देश विद्रोह के चार्ज भी लग जाते हैं। आज इस देश में खड़े होकर विपक्ष का नेता बोलता है तो उनका स्पीकर ऑफ कर दिया जाता है। जब ऑपोजिशन खड़े होकर बोलता है कि हमें टीवी पर नहीं दिखाया जा रहा है तो लोकसभा के स्पीकर पलटकर पूछते हैं-क्या आपका हंगामा दिखाएं हम?’

उन्होंने आगे पूछा- ‘क्या चुनी हुई सरकारों को गिराना और खरीद- फरोप करना लोकतंत्र है जिसको नया शब्द चाणक्य नीति भी कहा -जा रहा है? ये अनैतिक है, हर तरह से पाप है। सबसे बड़ा मेरा सवाल है कि क्या 112 दिन के बाद भी अपने किसानों को छोड़ देना मरने के लिए, औऱ एक शब्द न बोलना, क्या ये सही है?’

सुप्रिया के इन सवालों को सुन कर लाइव डिबेट के बीच में बीजेपी नेता और प्रवक्ता संबित पात्रा ने रिएक्ट किया और वह मुस्कुराने लगे।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट