ताज़ा खबर
 

सचिन वाजे शिवसेना का प्रवक्ता था क्या? अमिश देवगन ने किया सवाल तो मिला ऐसा जवाब

शिवसेना के प्रवक्ता संजय गुप्ता ने कहा है कि- आरोपों से कुछ सिद्ध नहीं होता। तो वहीं BJP प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने मामले की जांच की मांग की है...

News 18 India, Amish Devgan, Live Debate, Antilia case, Amish Devgan, Shiv Sena leader in live debate,शिवसेना नेता संजय गुप्ता (फोटोसोर्स-लाइव डिबेट )

न्यूज 18 इंडिया के शो ‘आर-पार’ में एंकर अमिश देवगन और शिवसेना नेता के बीच तीखी बहस देखने को मिली। अमिश ने शिवसेना नेता संजय गुप्ता से सवाल किया कि एंटीलिया केस में ये जो भी हो रहा है, उसमें ये फजीहत होगी, क्या आपको मालूम था? इस पर शिवसेना नेता और प्रवक्ता संजय गुप्ता बिफर पड़े और कहा कि इस तरह के आरोपों से कुछ सिद्ध नहीं होता। उधर, BJP प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने मामले की जांच की मांग की।

एंकर अमिश देवगन ने शिवसेना नेता से पूछा- ‘संजय गुप्ता, मैं आपसे जानना चाहता हूं- आपको पता था कि ये फजीहत होगी? इसलिए शिवसेना ने अब इस मामले में चुप्पी साध रखी है? क्योंकि आज नवनीत कौर राणा ने सदन में गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि जब मैं सदन में बोल रही थी तो मुझे शिवसेना के सांसद अरविंद सावंत ने धमकी दी कि आप ऐसा मत बोलिए। और कहा कि अगला नंबर आपका है, आप अब जेल जाएंगी? नवनीत कौर राणा भी मेंबर ऑफ पार्लियामेंट हैं, वह भी स्वतंत्र रूप से, वह किसी भी पॉलिटिकल पार्टी से नही हैं।’

इस बात पर शिवसेना नेता जवाब देते हैं- ‘देखिए अमिश देवगन जी, बहुत सी बीतों को मिक्स किया जा रहा है। जिन बातों को मिला कर ये खिचड़ी बन रही है या रायता फैला रहे हैं, सुधांशु त्रिवेदी जी या बीजेपी क्या कर रही है, वो मैं एक शेर में कहना चाहता हूं- न जाने बीजेपी के जहन में क्या इरादा है..परंतु हम ये जानते हैं कि इरादों में सच्चाई बहुत ही कम और षड्यंत्र कुछ ज्यादा है।’

शिवसेना नेता ने आगे कहा- ‘सचिन वाजे की जो री-स्टेटमेंट थी, उसे मैं क्लियर करना चाहूंगा। नेशनल चैनल पर इस बात को आपने भी और सुधांशु जी ने भी कहा। हाईकोर्ट में जो ऑर्डर थे वो ये थे कि घाटकोपर बम ब्लास्ट मामले में जो ख्वाजा यूनिस आरोपी था, उसकी पुलिस कस्टडी में मौत हुई थी। उसमें सिर्फ सचिन वाजे ही एक सस्पेंड नहीं हुआ था, 14 पुलिसकर्मी थे। हाईकोर्ट ने जो ऑर्डर दिया था वो ये थे कि इसकी इंक्वारी की जाए, जब तक इंक्वारी नहीं होती तब तक इनको सस्पेंड किया जाए।’

इसके बाद अमिश देवगन पूछते हैं- ‘सचिन वाजे शिवसेना का प्रवक्ता था? इस बात से इनकार कर करते हैं? वो शिवसेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमूमन दिखता था, इस बात से इनकार किया जा सकता है क्या?’ इस पर शिवसेना नेता से जवाब मिला-‘तो क्या हुआ, इसमें कोई गुनाह है क्या? अगर किसी ने किसी पार्टी को जॉइन किया था तो क्या गुनाह है?’

बताते चलें, महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत कौर राणा ने शिवसेना सांसद अरविंद सावंत पर आरोप लगाया है कि उन्होंने,  राणा को लोकसभा की लॉबी में कहा, ‘तू महाराष्ट्र में कैसे घूमती है, मैं देखता हूं।’ सांसद ने कहा कि शिवसेना सांसद ने मुझे धमकी दी है कि तुम्हें जेल भेजना पड़ेगा। नवनीत राणा ने कहा कि उन्हें इससे पहले भी शिवसेना द्वारा धमकी मिल चुकी है। उन्होंने लोकसभा स्पीकर से शिकायत की है और अरविंद सांवत पर कार्रवाई की मांग की है।

Next Stories
1 दूसरे पुरस्कारों की तरह नेशनल अवार्ड भी मजाक बन गया- BJP का नाम लेकर बॉलीवुड एक्टर ने कसा तंज़
2 गोविंदा ने गुपचुप तरीके से रचाई थी सुनीता से शादी, साल भर तक छुपाए रखी थी बात; दिलचस्प है वजह
3 सुशांत सिंह राजपूत से शादी करना चाहती थी इसलिए बाजीराव मस्तानी और बदलापुर जैसी फिल्में छोड़ी- बोलीं अंकिता लोखंडे
ये पढ़ा क्या?
X