ताज़ा खबर
 

सोनिया गांधी को मां मान उनके चरणों को हाथ लगा रहे थे सिद्धू- संबित पात्रा ने कसा तंज तो कांग्रेस नेता से मिला ऐसा ज़वाब

कांग्रेस नेता जितिन ने पार्टी छोड़ी और बीजेपी में शामिल हो गए, तो नवजोत सिंह सिद्धू का जिक्र करते हुए संबित पात्रा लाइव डिबेट में कहने लगे- 'दूसरे को हारता देख आप ये भूल जाते हैं कि आपका अस्तित्व समाप्त हो गया है। इतनी निगेटिविटी!'

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक, बीजेपी नेता संबित पात्रा (फोटो सोर्स- टीवी डिबेट)

न्यूज 18 इंडिया की लाइव डिबेट में अमिश देवगन के सामने कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक और बीजेपी नेता संबित पात्रा की तीखी बहस हो गई। इस बीच संबित पात्रा ने नवजोत सिंह सिद्धू का भी जिक्र किया। डिबेट के दौरान सिद्धू को लेकर रागिनी नायक के सामने पात्रा ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ने सोनिया गांधी को मां मान कर उनके चरणों में हाथ लगाए थे और पार्टी जॉइन की थी।

कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने पार्टी छोड़ी और बीजेपी में शामिल हो गए, तो नवजोत सिंह सिद्धू का जिक्र करते हुए संबित पात्रा लाइव डिबेट में कहने लगे- ‘दूसरे को हारता देख आप ये भूल जाते हैं कि आपका अस्तित्व समाप्त हो गया है। इतनी निगेटिविटी!’ वहीं कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए उन्होंने एक फिल्मी गीत के अलफाज भी कहने शुरू कर दिए- चार बज गए लेकिन पार्टी अभी बाकी है।

उन्होंने मां के विषय में कहा गया कि मां के साथ गद्दारी करना मां की पूजा छोड़ देना। ये सभी डायलॉग मुझे याद आते हैं। ये जो मां वाला डायलॉग है ना-पार्टी मां होती है, इसे सबसे पहले नवजोत सिंह सिद्धू जी ने कहा था। मां के साथ कभी भी छल नहीं करना चाहिए।

संबित पात्रा ने आगे कहा- ‘और मुझे वो तस्वीर भी याद है जब भारतीय जनता पार्टी छोड़ कर के नवजोत सिंह सिद्धू जब सोनिया गांधी जी को मां मानते हुए उनके चरणों में हाथ लगा रहे थे। और कह रहे थे आज से यही मेरी मां हैं। तो उस समय क्या हो गया? ये मां की परिभाषा कैसे बदल गई? संबित ने कहा- कांग्रेस कह रही है उनका शेर भी चला गया, लक्ष्मण भी नहीं है और राम को तो ये पसंद ही नहीं करते तो अब इनके हाथ में है क्या?’

बीजेपी नेता ने आगे कहा- ‘एक गीत था कि- चार बज गए मगर पार्टी अभी बाकी है। मुझे तो लगता है कि अब तीन बच गए मगर पार्टी अभी बाकी है। क्योंकि रॉबर्ट वाड्रा जी का भी मुझे भरोसा नहीं है। कभी कभी मुझे लगता है कि वो भी समाजवादी पार्टी में जा सकते हैं।’

इस पर रागिनी नायक कहती हैं- ‘संबित जी सबसे बड़ी गलती ये है कि आप कभी अपने गिरेबान में झांक कर नहीं देखते। आप हमेशा दूसरों के ऊपर इलजाम लगाते हैं। जब एक उंगली आप किसी की तरफ उठाते हैं तो बाकी तीन उंगलियां खुद की तरफ उठती हैं।’

Next Stories
1 कांग्रेस के पतन का कारण ‘लक्ष्मण रेखा’ जो राहुल गांधी के परिवार ने खींचा- डिबेट में बोले संबित पात्रा तो भड़कीं कांग्रेस नेता; दिया ये जवाब
2 म्यांमार से महीनों पैदल चलकर भारत आईं थीं हेलेन, भारत आते ही भाई ने तोड़ दिया दम; कपिल शर्मा शो पर सुनाई दर्द भरी दास्तां
3 TMC सांसद नुसरत जहां ने पति पर लगाया बैंक से पुश्तैनी गहने निकालने का आरोप, निखिल संग शादी को बताया अमान्य
ये पढ़ा क्या?
X