ताज़ा खबर
 

जब 100 के 300 रुपए बनाने के लिए नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बेचा धनिया

अपने दम पर मुकाम हासिल करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने धनिया बेचने तक का काम किया है। जी हां, नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि एक बार 100 रुपए के धनिए से उन्होंने 300 रुपए बनाने की कोशिश की थी।

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि कई बार लोग मुझे यह कहकर ठुकरा देते थे कि मैं एक्टर की तरह दिखता ही नहीं, क्योंकि ना तो मेरे सिक्स पैक ऐब्स हैं और न ही मैं लंबा-चौड़ा और हैंडसम हूं।

बॉलीवुड के तेजी से उभरते हुए सितारे नवाजुद्दीन सिद्दीकी अपनी दमदार एक्टिंग के लिए जाने जाते हैं। नवाजुद्दीन ने अपनी एक्टिंग स्किल के जरिए अपने फैंस का दिल जीत कर उनके दिलों में खास जगह बनाई है। अपने दम पर मुकाम हासिल करने वाले नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने धनिया बेचने तक का काम किया है। जी हां, नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि एक बार 100 रुपए के धनिए से उन्होंने 300 रुपए बनाने की कोशिश की थी।

एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने अपनी जिंदगी से जुड़े कई किस्से शेयर किए। इस दौरान उन्होंने बताया कि उनके एक दोस्त ने उन्हें कहा कि क्या वह 100 रुपए के 300 रुपय बनाना चाहते हैं। नवाजुद्दीन ने बताया कि इस दौरान वह मीरा रोड पर रहते थे। सिद्दीकी ने बताया, ‘मेरे दोस्त ने 200 रुपए का धनिया खरीदा और उस धनिए की बोली लगाने लगा। वो जोर जोर से बोलने लगा.. 5 रुपए की गड्डी, 5 रुपए की गड्डी। इसके बाद थोड़ी देर में वो धनिया काला पड़ने लगा। वहीं उस धनिये को किसी ने खरीदा ही नहीं। फिर हम दोनों वापस उस धनिया बेचने वाले के पास गए। हमने उससे पूछा भाई तुम्हारा धनिया तो काला पड़ने लगा है। कोई इसे खरीद ही नहीं रहा। तो उसने बताया कि आपको धनिया पर पानी डालते रहना था इससे वह काला नहीं पड़ता। इसके बाद हमारे पास जो पैसे थे वह भी चले गए। हमें ट्रेन से वापस बिना टिकट सफर करना पड़ा।’

Nawazuddin Siddiqui, Fees, Charge, Haraamkhor, One Rupees, Fees, Haraamkhor Movie, Bollywood News in Hindi, Entertainment news in Hindi फिल्म हरामखोर के ट्रेलर का एक सीन Baahubali 2, Baahubali 2 Nawazuddin Siddiqui, Baahubali 2 Records, Nawazuddin Siddiqui on Prabhas, Rana Daggubati, ss rajamouli, baahubali 2 the conclusion, entertainment news in hindi, Jansatta फिल्म किक में जहां वह निगेटिव रोल प्ले करते नजर आए वहीं फिल्म बजरंगी भाईजान में वह एक रिपोर्टर की भूमिका में थे।

इस दौरान नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने एक किस्सा कान फिल्म फेस्टिवल में जाते वक्त का भी बताया। उन्होंने बताया कि जब उन्हें कोई नहीं जानता था तब उन्होंने उस वक्त को कैसे काटा। नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया, ‘साल 2012 में कान फिल्म फेस्टिवल में मेरी दो फिल्में सलेक्ट हुई थीं। इस दौरान मैं बड़े डिजाइनर के पास गया और कहा कि मुझे कान फेस्ट में जाना है तो बढ़िया सा सूट चाहिए। उन्होंने मुझे नीचे से लेकर ऊपर तक देखा। उन्हें लगा होगा कि यह एक्टर तो लग ही नहीं रहा है इसकी पिक्चर कहां सलेक्ट हुई होंगी। इस दौरान डिजाइनर्स ने मुझे सूट बनाने से मना कर दिया।’

Nawazuddin Siddiqui, Gangs Of Wasseypur, Nawazuddin Siddiqui Interview, bollywood, entertainment news, jansatta बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी।

आगे उन्होंने बताया कि ‘मुझे अर्जेंट जाना था। मेरे घर के पास एक लोकल मार्किट है, वहां पर मैं टेलर के पास गया और उसे सूट बनाने के लिए कहा। मैंने कपड़ा खरीदा, और कहा कि इस सूट को दो दिन में सीना है। जैसे-तैसे कर के उसने सूट सी दिया। वही पहन कर मैं कान फिल्म फेस्टिवल में गया था। अगली बारी फिर कान फिल्म फेस्टिवल में मेरी तीन फिल्में सलेक्ट हुईं। लंच बॉक्स, मॉनसून शूटआउट और बॉम्बे टॉकीज। जब लोगों को पता चला कि इसकी तीन फिल्में सलेक्ट हुई हैं तो इसके बाद बहुत सारे डिजाइनर्स मेरे पास खुद आए और बोले हम आपके कपड़े डिजाइन करते हैं। तो मैंने कहा अब तो वो पुराना वाला ही पहन कर जाऊंगा।’

Nawazuddin Siddiqui raman raghav2.0
इस दौरान नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बड़े-बड़े सुपरस्टार्स के साथ कंपेरेजन को लेकर भी बात की। उन्होंने सलमान और शाहरुख का जिक्र करते हुए बताया, ‘फिल्म रईस के दौरान शाहरुख साहब और मैं एक सीन को कई वेरिएशन के साथ प्रेक्टिस किया करते थे, बहुत मजा आता था।’ वहीं सलमान के साथ बिताए पलों के बारे में बात करते हुए नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि सलमान खान कई बार उन्हें अपने पंच लाइंस तक दे दिया करते थे। उन्होंने बताया, ‘ सलमान साहब के साथ मेरा जो डायलॉग होते, चाहे वह उनका पंच लाइन हो, कई बार वो मुझे ही बोलने के लिए पकड़ा दिया करते थे। बहुत बार ऐसा हुआ जब ‘बजरंगी भाई जान’ या ‘किक’ में सलमान साहब ने मुझे अपनी पंच लाइन दे दीं। यह लोग तो सुपरस्टार्स हैं इनको किस बात की इनसिक्योरिटी। इन लोगों से तो मेरा कंपेरेजन हो ही नहीं सकता।’

मांझी, मांझी द माउंटेन मैन, मांझी टैक्स फ्री, नवाजुद्दीन सिद्दिकी, राधिका आप्टे, उत्तराखंड, तिग्मांशु धुलिया, पंकज त्रिपाठी, बॉलीवुड, बॉलीवुड न्यूज़, मनोरंजन, manjhi - the mountain man, manjhi - the mountain man tax free, manjhi, manjhi tax free, nawazuddin siddiqui, radhika apte, ketan mehta, entertainment news

अवॉर्ड्स मिलने को लेकर सिद्दीकी ने कहा कि ‘अवॉर्ड्स उनके लिए मायने नहीं रखते। जो अवॉर्ड दिए जाते हैं उससे तो अच्छा है कि वहां न ही जाया जाए। ऐसे में वहां जाकर खुद को बेईज्जती फील होती है। मैंने तो बोल रखा है कि भाई मुझे मत दो मुझे नॉमिनेट भी मत करो।’

वहीं, बायोपिक को लेकर नवाजुद्दीन से सवाल पूछा गया कि अगर उनके ऊपर बायोपिक बनती है तो वह उसका क्या नाम रखना चाहेंगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि अभी तक डिसाइड नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘दरअसल मैंने कभी इस तरह सोचा ही नहीं कि मुझ पर कभी बायोपिक भी बनेगी। लेकिन अब इस बारे में सोचूंगा।

nawazuddin-siddiqui, Actor Nawazuddin Siddiqui, Film career, Yash Bharti Award, Kick, Entertainment News, Bollywood

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने हॉलीवुड और बॉलीवुड के कंपेरेजन पर भी बात की। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं कि हमारे यहां वहां की तुलना में खराब सिनेमा बनता है। यहां अगर साल में चार से पांच फिल्में बनती हैं और बाकी कचरा होती हैं वैसे ही हालात वहां के भी हैं वहां भी साल में सिर्फ चार-पांच फिल्में ही अच्छी बनती हैं। यहां की तरह ही वहां भी एनाकॉंडा टाइप की कचरा फिल्में बनती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App