शादीशुदा राज कपूर के साथ 10 सालों तक रिलेशनशिप में रहीं थीं नरगिस दत्त, ‘मदर इंडिया’ में बेटे बने सुनील दत्त से ऐसे हुआ प्यार

सुनील दत्त से पहले नरगिस शादीशुदा राज कपूर से प्यार करती थीं और उनका यह रिश्ता 10 सालों से अधिक वक़्त तक चला। नरगिस और सुनील दत्त फिल्म ‘मदर इंडिया’ के दौरान मिले और फिल्म की रिलीज़ से पहले ही दोनों ने शादी कर ली।

nargis love story, raj kapoor affair with nargis, sunil dutt nargis love story
नरगिस दत्त और उनके पति सुनील दत्त

नरगिस दत्त बीते ज़माने की सबसे खूबसूरत और पढ़ी लिखी अभिनेत्रियों में से एक मानी जाती थीं। उनके निजी ज़िंदगी की बात करें तो, जब वो 19 साल की थीं, तब उनकी ज़िंदगी में राज कपूर आए। नरगिस की मां की उसी वक्त मृत्यु हुई थी जिससे वो बहुत टूट गईं थीं। राज कपूर में उन्हें अपना हमसफर दिखा क्योंकि राज कपूर बेहद गुड लुकिंग थे और वो उन्हें समझते थे। नरगिस दत्त पर किताब ‘डार्लिंग जी’ लिखने वाली किश्वर देसाई ने बीबीसी को बताया था, ‘उस ज़माने में इस तरह इंसान, नीली आंखें, बहुत खूबसूरत आपके सामने आकर यह कहे कि वो आपका हमसफ़र बनना चाहता है तो नरगिस कैसे इंकार करती। हालांकि वो शादशुदा थे और उनके बच्चे भी थे।’

नरगिस ने बिना उनकी शादी और बच्चों के बारे में सोचें उनसे बेहद प्यार किया और एक वक्त ऐसा भी आया जब नरगिस ने राज कपूर के अलावा किसी और के साथ फिल्में करने से मना कर दिया। राजकपूर कहते थे कि कृष्णा (उनकी पत्नी) उनके बच्चों की मां है और नरगिस उनके फिल्मों की मां हैं। लेकिन 10 साल बीत जाने के बावजूद राज कपूर और उनका रिश्ता कुछ और नहीं बन पा रहा था। नरगिस के साथ रिलेशनशिप में रहते हुए भी राज कपूर के कृष्णा से बच्चे हो रहे थे और ये बात नरगिस को नागवार गुजरी। वो चाहती थीं कि उनका भी घर परिवार हो लेकिन राज कपूर इसके लिए तैयार नहीं थे।

इस बात से नरगिस का दिल टूट गया और वो राज कपूर से कम लगाव रखने लगीं। इसी बीच नरगिस दत्त को फिल्म, ‘मदर इंडिया’ मिली और उनकी मुलाकात सुनील दत्त से हुई जो फिल्म में उनके बेटे बिरजू का किरदार निभा रहे थे। फ़िल्म की शूटिंग के दौरान सेट पर आग लग गई और नरगिस आग की लपटों के बीच फंस गईं थीं। किसी के अंदर इतनी हिम्मत नहीं हो रही थी कि वो नरगिस को आग के बीच से निकाले। लेकिन सुनील दत्त बिना सोचे आग में कूद गए और नरगिस को गोद में उठा आग से निकाल कर ले आए।

सुनील दत्त का बिना अपने चेहरे के जलने की परवाह किए आग में कूदकर उनकी जान बचाना नरगिस के दिल को छू गया। सुनील दत्त उनको बचाने के चक्कर में खुद भी थोड़ा जल गए थे। नरगिस ने सोचा कि ये इंसान तो खुद से ज़्यादा मेरी परवाह कर रहा है। दोनों के बीच प्यार हुआ और फिल्म की रिलीज़ से पहले ही दोनों ने शादी कर ली। 11 मार्च 1958 को नरगिस और सुनील दत्त की आर्य समाज रीति रिवाजों से शादी हुई। इस शादी को शुरू में गुप्त रखा गया। निर्देशक महबूब को डर था कि इससे ‘मदर इंडिया’ पर असर पड़ सकता था क्योंकि फिल्म में नरगिस सुनील दत्त की मां बनी थीं।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट