जब कैंसर से जूझती नरगिस दत्त को डॉक्टर्स ने दी मारने की सलाह, सुनील दत्त ने लिया था ये फ़ैसला

जब कैंसर से जूझती नरगिस दत्त के बचने की कोई आस नहीं रही तब डॉक्टर्स ने सुनील दत्त से कहा कि नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा दिया जाए। सुनील दत्त इसके लिए राजी नहीं हुए और...

nargis dutt, sunil dutt, sanjay duttनरगिस और सुनील दत्त की लव स्टोरी दिलचस्प है (Photo-Indian Express Archive)

Nargis Dutt Death Anniversary: बॉलीवुड की खूबसूरत और बेहतरीन अदाकारा नरगिस दत्त की आज पुण्यतिथि है। नरगिस दत्त ने अपने फिल्मी करियर में कई बेहतरीन फिल्में दीं लेकिन ‘मदर इंडिया’ में उनका किरदार सदियों तक याद रखा जाएगा। नरगिस दत्त अपनी निजी ज़िंदगी को लेकर भी खूब चर्चित रहीं। सुनील दत्त के साथ उनके प्यार और शादी पर खूब बातें हुईं, साथ ही राज कपूर के साथ उनकी जोड़ी की भी खूब चर्चा हुई। जब सुनील दत्त हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में नहीं आए थे तभी से वो नरगिस को पसंद करते थे। नरगिस उन दिनों हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री की स्थापित अभिनेत्री बन चुकी थीं वहीं सुनील दत्त रेडियो सिलोन में काम करते थे।

दोनों की पहली मुलाकात भी रेडियो सिलोन में ही हुई थी जब नरगिस एक इंटरव्यू के सिलसिले में वहां गईं थीं। सुनील दत्त जब फिल्म इंडस्ट्री में काम करने लगे तब उन्हें फिल्म मदर इंडिया में नरगिस के बेटे का रोल ऑफर हुआ। इसी फिल्म के दौरान दोनों के बीच प्यार हुआ। नरगिस और सुनील दत्त ने साल मार्च 1958 में शादी कर ली।

नरगिस अपने बच्चों संजय दत्त, नम्रता दत्त और प्रिया दत्त में सबसे ज्यादा संजय दत्त के करीब थीं। वो संजय से इतना प्यार करती थीं कि संजय बुरी आदतों का शिकार होते चले गए। संजय दत्त ने फिल्म क्रिटिक संजय के झा से एक बार कहा था, ‘वो मुझे सभी काम करने देती थीं और जब मेरे अनुशासनप्रिय पिता मुझे कंट्रोल करने की कोशिश करते तो भी वो मुझे बचाती थीं।’

संजय के झा से एक बार एक अभिनेत्री ने बताया था कि संजय रात भर घर पर नहीं होते। जब नरगिस से सुनील दत्त पूछते कि संजय कहां हैं तो वो कहतीं कि अपने कमरे में है।

इसी बीच नरगिस को कैंसर हो गया जिसकी जानकारी संजय को बहुत बाद में हुई। वो संजय से इतना प्यार करती थीं कि ये बात उन्हें बताया नहीं चाहती थीं। नरगिस को कैंसर की वजह से बहुत दर्द का सामना करना पड़ा।

 

उनका इलाज विदेश में चल रहा था और वो लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थीं। जब उनके बचने की कोई आस नहीं रही तब डॉक्टर्स ने सुनील दत्त से कहा कि नरगिस का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा दिया जाए। सुनील दत्त इसके लिए राजी नहीं हुए। वो नरगिस से बहुत प्यार करते थे और ये कदम वो किसी भी हाल में नहीं उठा सकते थे।

 

इधर संजय दत्त की पहली फिल्म रॉकी भी रिलीज होने वाली थी। नरगिस की इच्छा थी कि वो अपने बेटे की पहली फिल्म जरूर देखेंगी। उनका कहना था कि अगर उन्हें स्ट्रेचर पर भी ले जाना पड़ा तो भी वो फिल्म जरूर दिखेंगी। लेकिन अफसोस ऐसा हो न सका। संजय दत्त की रॉकी 8 मई 1981 को रिलीज होने वाली थी लेकिन नरगिस 3 मई को ही 51 वर्ष की आयु में इस दुनिया से चल बसीं।

Next Stories
1 मेरे बाद आरव इंडस्ट्री का दूसरा सुपरस्टार होगा- अक्षय कुमार के बेटे को लेकर बोल पड़े थे राजेश खन्ना
2 बीजेपी हारती है तो लगता है देश जीत रहा है- बॉलीवुड एक्टर ने मारा ताना, स्वरा भास्कर बोलीं- हिंदुओं ने मारी लात…
3 बंगाल में बीजेपी की हार पर गुस्साईं कंगना रनौत, कश्मीर से की तुलना तो लोग करने लगे ऐसा कमेंट
ये पढ़ा क्या?
X