शेयर हो रहा मंत्री पीयूष गोयल का पुराना वीड‍ियो, कहा था- रोज पूजा करता हूं तो ला इलाहा…भी बोलता हूं

नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्रीं पीयूष गोयल का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो सांप्रदायिक सौहार्द की बात करते हुए ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूल्ल्लाह’ का नारा बुलंद करते दिख रहे हैं।

piyush goyal, rakesh tikait, ajit anjum
पियूष गोयल का पुराना वीडियो वायरल है (Photo-Ajit Anjum/Twitter)

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में 5 सितंबर को हुई किसान महापंचायत में राकेश टिकैत के एक नारे को लेकर खूब चर्चा हो रही है। भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता ने अपने भाषण में सांप्रदायिक सौहार्द के उद्देश्य से, ‘अल्लाहु अकबर, हर हर महादेव’ के नारे लगाए। हालांकि एक वर्ग टिकैत के इस नारे पर आपत्ति जताते हुए उनकी आलोचना कर रहा है। इसी बीच नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्रीं पीयूष गोयल का एक पुराना वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वो सांप्रदायिक सौहार्द की बात करते हुए ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूल्ल्लाह’ का नारा बुलंद करते दिख रहे हैं।

पीयूष गोयल का यह वीडियो कई लोग शेयर कर रहे हैं और बीजेपी पर निशाना साध रहे हैं। वीडियो में गोयल शिक्षा को लेकर आयोजित कॉन्फ्रेंस, ‘तालीम की ताकत’ में बोलते दिख रहे हैं। यह कार्यक्रम 28 जनवरी 2016 को आयोजित किया गया था।

कार्यक्रम में बोलते हुए पीयूष गोयल कह रहे हैं, ‘मैंने उस छोटे वाक्य से शुरुआत करने की इजाजत ली है जो हमने तब सीखा था….और जो मेरे मन में ऐसा बैठ गया है कि रोज सुबह जब मैं पूजा करता हूं, उसमें मैं वो वाक्य भी साथ में जोड़ता हूं- ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूल्ल्लाह।’

बीजेपी मंत्री आगे कह रहे हैं, ‘वास्तव में सभी धर्मों की जो ताकत है, वो यहीं ताकत है कि जब हम सब अमन और शांति से एक दूसरे के साथ मिलकर चलते हैं तभी पूरे देश का निर्माण होता है, तभी ऐसा बढ़िया माहौल बनता है।’

इस वीडियो को पत्रकार अजीत अंजुम ने शेयर करते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है, ‘क्या आपको पता है कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल हर रोज पूजा के दौरान ‘ला इलाहा इल्लल्लाह मोहम्मद रसूलल्लाह’ भी बोलते हैं? किसानों के मंच से हर हर महादेव के साथ अल्लाह हू अकबर पर उबल रहे नफरती पुतले अपने मंत्री को तो सुन लें। उस हिसाब से तो गोयल जी का इस्तीफा हो जाना चहिए।’

बता दें, राकेश टिकैत के नारे को लेकर सोशल मीडिया पर एक वर्ग उनकी काफी आलोचना कर रहा है। वहीं सांप्रदायिक सद्भाव की बात करते हुए कई लोग राकेश टिकैत के नारे की सराहना भी कर रहे हैं। बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने भी टिकैत के इस नारे की सराहना की है।

उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘यूपी के मुजफ्फरनगर जिले में कल हुई किसानों की जबरदस्त महापंचायत में हिन्दू-मुस्लिम साम्प्रदायिक सौहार्द के लिए भी प्रयास अति-सराहनीय। इससे निश्चय ही सन 2013 में सपा सरकार में हुए भीषण दंगों के गहरे जख्मों को भरने में थोड़ी मदद मिलेगी किन्तु यह बहुतों को असहज भी करेगी।’

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट