ताज़ा खबर
 

नाम शबाना स्टार मनोज वाजपेयी ने कहा- मैं हीरो नहीं, रचनात्मक बनना चाहता था

मनोज वाजपेयी ने कहा कि मुझे लगता है कि मेरी यात्रा दिलचस्प और रंगीन रही। जहां मैं जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से हजारों लोगों से मिला।

Author नई दिल्ली | April 2, 2017 11:18 AM
बॉलीवुड एक्टर मनोज वाजपेयी रचनात्मक एक्टर बनना चाहते थे। (Image Source: Instagram)

पर्दे पर कलाकार के रूप में अपनी बहुमुखी प्रतिभा को साबित करने वाले अभिनेता मनोज वाजपेयी ने बताया कि वह कभी भी बॉलीवुड स्टार बनना नहीं चाहते थे, बावजूद इसके वह खुद को रचनात्मक अभिनेता के तौर पर स्थापित करना चाहते थे। यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने कभी पर्दे पर छवि बनाने की कोशिश की है? इस पर मनोज ने यहां एक साक्षात्कार में आईएएनएस से कहा, “नहीं मैंने कभी ऐसा नहीं किया क्योंकि मेरा ऐसा लक्ष्य नहीं था। मैं खुद को कभी भी हीरो नहीं, बल्कि रचनात्मक अभिनेता बनाना चाहता था। मैं भूमिकाओं के साथ प्रयोग करने पर जोर देता हूं।” उन्होंने कहा, “इसलिए जब भी मैं पटकथा पढ़ता हूं तो मैं यह जरूर देखता हूं कि इससे पहले मैंने ऐसा कभी नहीं किया।” यह पूछे जाने पर कि क्या वह कोई भूमिका तैयार कर रहे हैं खासतौर पर जब वह धारावाहिकों का हिस्सा नहीं बने।

वाजपेयी ने कहा, “मुझे लगता है कि मेरी यात्रा दिलचस्प और रंगीन रही। जहां मैं जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से हजारों लोगों से मिला।” पुरस्कार जीतना बेहतर काम करने के लिए प्रेरित करता है? इस पर उन्होंने कहा, “मैं पुरस्कार प्राप्त करते हुए विनम्र हूं इसलिए मैं उनका शुक्रगुजार हूं, लेकिन अगर यह मुझे नहीं मिलता तो मुझे निराश नहीं होना चाहिए। पुरस्कार की वजह से पटकथाओं की पेशकश और मेहनताना बढ़ जाता है। मेरे लिए अच्छी कहानी प्रेरणा है।”

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41999 MRP ₹ 52370 -20%
    ₹6000 Cashback

बता दें कि कुछ दिनों पहले अभिनेता मनोज बाजपेयी ने कहा था कि शाहरुख खान के पास एक फिल्मी स्टार होने का करिश्मा है, जबकि उनके पास यह नहीं है। मनोज ने फिल्म ‘नाम शबाना’ के प्रचार के दौरान दिए साक्षात्कार में कहा, “शाहरुख जैसे सितारे का हर जगह क्रेज है। उनकी एक झलक देखकर लोग दीवने हो जाते हैं।

इस बात ने मुझे हमेशा हैरान किया कि ऐसा कैसे हो सकता है? यह गढ़ा जा सकता है..चाहे आप इसके साथ पैदा हुए हों या नहीं हुए हों। मनोज कहते हैं, अगर मैं हवाई अड्डे पर खड़ा होता हूं तो लोग मुझे देखकर क्रेजी नहीं होंगे, लेकिन अगर शाहरुख खड़े होते हैं तो बात ही कुछ और होती है, क्योंकि उनके पास स्टार करिश्मा है और यह मेरे पास नहीं है।

'नाम शबाना' में तापसी की परफॉर्मेंस को अक्षय ने दिए 10 में से 10 नंबर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App