ताज़ा खबर
 

जिनके धर्म में तीन पत्नियां रखने का अधिकार हो वो ओवैसी हमें प्रेम का पाठ पढ़ाएंगे- अमिश देवगन के डिबेट शो में बोले MP के गृहमंत्री

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र ने न्यूज़ 18 के डिबेट शो में अमिश देवगन से कहा कि प्रेम की परिभाषा आप ओवैसी से पढ़वा रहे हैं नरोत्तम को? उन्होंने कहा कि अपनी बेटियों के साथ हम छलावा नहीं होने देंगे।

narottam mishra, love jihad, news 18 debate showमध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र।

कथित लव जिहाद को लेकर पिछले दिनों बहस तेज़ हो गई है और कई राज्य सरकारें इस पर कानून लाने की बात भी कर चुकीं हैं। सबसे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने इस पर पहल की जिसके बाद हरियाणा सरकार ने भी इस पर कानून बनाने की बात कही है। मध्य प्रदेश सरकार ने भी इस पर कानून बनाने को लेकर प्रतिबद्धता जाहिर की है। कुछ दिनों पहले प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्र ने कहा था कि ‘लव जिहाद’ के खिलाफ सख्त कानून बनाने के लिए अगले विधानसभा सत्र में एक विधेयक लाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि कानून में दोषियों को 5 साल की कठोर सजा का प्रावधान होगा। एमपी के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र ने एक बार फिर लव जिहाद पर कानून बनाने पर अपनी प्रतिबद्धता दिखाई है। न्यूज़ 18 के डिबेट शो, ‘आर पार’ में अमिश देवगन ने AIMIM प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी के एक बयान का ज़िक्र किया जिसपर गृहमंत्री भड़क गए। अमिश देवगन ने कहा, ‘ओवैसी साहब ने कहा है कि नफ़रत फैलाने से पहले बीजेपी संविधान का अध्ययन कर ले। आप प्रेम में धर्म का बंटवारा कर रहे हैं।’

उनके इस बात पर नरोत्तम मिश्र ने कहा, ‘उनसे हमें प्रेम की सिख नहीं लेनी है। जिनके धर्म में तीन- तीन पत्नी रखने का अधिकार मिला हो, वो हमें प्रेम का पाठ पढ़ाएंगे? मैंने इसलिए कृष्ण भगवान का भी ज़िक्र किया था कि प्रेम शाश्वत है। और प्रेम की परिभाषा आप ओवैसी से पढ़वा रहे हो नरोत्तम को? ऐसा तो न करो आप।’ अमिश देवगन जवाब देते हैं, ‘नहीं मैं तो सवाल पूछ रहा हूं, मैं किसी को पढ़ाने वाला नहीं, किसी को सिखाने वाला नहीं, मैं तो रिपोर्ट करने वाला हूं। विपक्ष की डिमांड है कि आप कानून लेकर आइए लेकिन लव के साथ जिहाद को मत जोड़िए। जिहाद तो बड़ा पाक शब्द है।’

नरोत्तम मिश्र ने कहा, ‘जिन्होंने जोड़ा है, जो करते हैं आप उनसे कहें, हमने नहीं जोड़ा। हम हर हाल में विधेयक लेकर आएंगे जो इस तरह से प्रेम में बहलाकर, फुसलाकर, प्रलोभन देकर, डराकर, धर्म, नाम, जाति बदल कर काम करते हैं, उसकी पूर्ति करता है हमारा विधेयक। अपनी बेटियों के साथ छलावा नहीं होने देंगे।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Birthday Special: वाम किले को भेद पहली बार त्रिपुरा में खिलाया था कमल, बयानों के लेकर अक्सर विवादों में रहते हैं सीएम बिप्लब कुमार देब
2 वैक्सीन कोई मंत्र नहीं जिससे बीमारी भस्म हो जाए, डिबेट में बोले डॉ. आर सी शर्मा-अभी बहुत चीजें हैं बाकि
3 करप्शन को भी सेक्युलर और कम्युनल में बांट रहे हैं, माजिद हैदरी ने भाजपा पर साधा निशाना तो संबित पात्रा ने दिया जवाब
ये पढ़ा क्या?
X