कान पकड़कर खड़ा कराया गया था- मौसमी चटर्जी को शूटिंग के दौरान कमरे में रखते थे बंद, सेट पर होता था ऐसा व्यवहार

मौसमी चटर्जी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि उन्हें सेट पर कमरें में बंद करके रखा जाता था। उन्हें कान पकड़कर खड़े रहने की सजा भी दी जाती थी।

moushumi chatterjee, moushumi chatterjee film
बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस मौसमी चटर्जी (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस मौसमी चटर्जी ने हिंदी सिनेमा में अपनी एक्टिंग से लोगों का खूब दिल जीता था। उन्होंने 1967 में फिल्म ‘बालिका वधू’ से हिंदी सिनेमा में कदम रखा था और इसकी शूटिंग के वक्त एक्ट्रेस पांचवी कक्षा में थीं। शूटिंग के शुरुआती दिन जहां एक्ट्रेस के लिए काफी खास रहे थे तो वहीं बाद में एक्ट्रेस को कमरे में बंद करके भी रखा जाने लगा था। इतना ही नहीं, कई बार एक्ट्रेस को कान पकड़कर खड़े रहने की सजा भी मिली थी। इस बात का खुलासा खुद मौसमी चटर्जी ने ‘बातें कही अनकही’ में किया था।

‘बालिका वधू’ की शूटिंग से जुड़े अनुभव के बारे में बात करते हुए मौसमी चटर्जी ने कहा था, “मुझे सेट पर कान पकड़कर खड़े रहने की सजा दी गई थी। शूटिंग के शुरुआती दो दिन तो मुझे बहुत भाव मिला था, लेकिन तीसरे दिन मुझे लगने लगा कि यह तो रोज चोटी बनाकर, मुंह पर लीपापोती करके बैठा देंगे। मुझे खेलने का टाइम नहीं मिलता था।”

मौसमी चटर्जी ने इंटरव्यू में आगे बताया था, “मुझे सभी चीजों की याद आने लगी थी, इससे मैं सेट छोड़कर ही भाग जाती थी। उन दिनों थिएटर में एक शीशे वाला कमरा होता था। मेरे भाग जाने के कारण मुझे वहां लॉक करके रखा जाता था। शॉट के समय जो भी मुझे लेने आता था, पहले उसकी पिटाई होती थी। असल में मैं बदमाशी बहुत करती थी।”

मौसमी चटर्जी ने अपनी शरारतों के बारे में आगे कहा था, “मुझे शूटिंग के लिए नथनी पहनाई जाती थी, जो मैं उतारकर फेंक देती थी। मेरी इन हरकतों को देखकर निर्देशक ने भी कह दिया था कि 200 नथनी लेकर रखो, अगर यह फेंके तो तुम लगाते रहो।” प्रो केरल को दिए इंटरव्यू में मौसमी चटर्जी ने बताया था कि उन्होंने कभी भी अपने करियर को गंभीरता से नहीं लिया था।

मौसमी चटर्जी का इस बारे में कहना था, “मैंने कभी भी अपने करियर को गंभीरता से नहीं लिया था। इसलिए मैं हमेशा ही फिल्म इंडस्ट्री के प्रति आभारी रहूंगी। मेरे सभी सहकर्मी, चाहे वह निर्देशक हों, निर्माता हों या फिर एक्टर हों, वे सभी मेरे प्रति काफी दयालू थे और उन्होंने हमेशा ही मुझे फिल्में ऑफर की थीं।”

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट