scorecardresearch

नरेंद्र मोदी को गौतम बुद्ध की तरह राजपाट त्याग देना चाहिये- बॉलीवुड एक्टर ने दी सलाह, मिले ऐसे जवाब

बुद्ध पूर्णिमा के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को बधाई दी तो केआके ने पीएम पर तंज कसा है।

Narendra Modi, Vinod kapri, Gyanwapi maszid
पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स- ट्विटर वीडियो ग्रैब/ANI)

अपने बेतुके बयानों की वजह से बॉलीवुड एक्टर और प्रोड्यूसर कमाल आर खान हमेशा चर्चा में बने रहते हैं। वह अक्सर कोई न कोई ऐसा बयान दे देते हैं जो नया विवाद खड़ा कर देता है। यहां तक कि वह कई बार ट्रोल भी हो चुके हैं। केआरके बॉलीवुड अभिनेताओं से लेकर बीजेपी नेताओं, तो कभी पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हैं। बुद्ध पूर्णिमा 16 मई यानि आज पूरे देश में मनाई जा रही है।इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत कई नेताओं ने देशवासियों को बधाई दी।

पीएम नरेद्र मोदी ने कहा कि ‘बुद्ध पूर्णिमा पर हम भगवान बुद्ध के सिद्धातों को याद करते हैं और उन्हें पूरा करने की अपनी प्रतिबंद्धता दोहराते हैं।’ अब इस पर केआके ने पीएम पर तंज कसा है। जिसपर लोग उन्हें करारा जवाब दे रहे हैं।

केआरके ने किया यह ट्वीट: केआरके ने एक ट्वीट के जरिए पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए लिखा कि ‘भगवान बुद्ध ने विश्व में शांति स्थापित करने के लिए अपना राज्य छोड़ दिया। अगर पीएम मोदी बुद्ध के इतने बड़े भक्त हैं तो उन्हें भी उनकी तरह अपना राज्य छोड़ देना चाहिए।’

लोगों की प्रतिक्रियाएं : केआरके के इस ट्वीट पर यूजर्स उन्हें करारा जवाब देते नजर आ रहे हैं। एक यूजर ने लिखा कि ‘आपको फिर से इतिहास पढ़ने की सलाह दी जाती है। भगवान बुद्ध राजकुमार नहीं राजा थे। यह उनके पिता का राज्य था। उन्होंने शांति फैलाने के लिए नहीं बल्कि सत्य और ज्ञान की तलाश करने के लिए राज्य छोड़ा था। पीएम मोदी पहले ही घर छोड़ चुके हैं और वह राजा नहीं हैं। वह जनता के प्रतिनिधि हैं।’

तो वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘अपने काम से मतलब रखो। आप अब भारतीय नहीं हैं इसलिए हमारी राजनीति पर टिप्पणी न करें। FATF की ग्रे लिस्ट में आपका अपना देश है। इसलिए पहले अपने देश की देखभाल करें। हम जानते हैं कि आप लोग कितने पढ़े-लिखे हैं और कितना ख्याल रखते हैं!’

केआरके ने कहा- भक्त शासक जूते पॉलिस करते थे: केआरके मोदी पर तंज कसने तक ही सीमित नहीं रहे, उन्होंने दो अन्य ट्वीट भी किए। केआरके एक अन्य ट्वीट में लिखते हैं कि ‘मुगलों ने भारत पर 300 वर्षों तक शासन किया और अंग्रेजों ने 100 वर्षों तक भारत पर शासन किया। 400 वर्षों के दौरान ये भक्त, शासकों के जूते पॉलिश कर रहे थे। अब 500 साल बाद उन्हें पता चला कि वे खतरे में हैं।’

भारत में नहीं होनी चाहिए मुगलों द्नारा बनाई गई संरचनाएं:
केआरके अपने दूसरे ट्वीट में लिखते हैं कि ‘प्रिय VHP, RSS और बजरंग दल के लोग, कृपया ताजमहल रेडफोर्ट, कुतुब मीनार आदि पर अधिकार कर लें और इन सभी को तोड़कर मंदिर बनवाएं। आपके पास भारत में संरचनाएं क्यों होनी चाहिए जो लुटेरे मुगलों द्वारा बनाई गई थीं। आप भारत को फिर से महान बनाने के लिए ऐसा कर सकते हैं।’

पढें मनोरंजन (Entertainment News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट