रैपर यूट्यूबर ने छोड़ा म्यूजिक, कहा- इस्लाम में हराम है संगीत; सोशल मीडिया पर लोग गिना रहे हैं दिग्गज मुस्लिम गीतकार-संगीतकारों के नाम

रुहान के चैनल पर तकरीबन 23 लाख सब्सक्राइबर्स हैं। 2018 में ‘मिया भाई’ रैप सॉन्ग ने म्यूजजिक इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया था। रैप सॉन्ग ‘मिया भाई’ से यूट्यूब पर अर्शद रातों-रात स्टार बन गए थे। अब तक इस वीडियो को 500 मिलियन लाइक मिल चुके हैं।

Ruhaan Arshad, Miya Bhai rapper, Rapper quits music, Haraam in islam, Hyderabad
रैपर रुहान अर्शद। (फोटोः ANI)

‘मिया भाई’ रैप के जरिए म्यूजिक इंडस्ट्री में तहलका मचाने वाले रैपर ने फिलहाल अपनी इस दुनिया को छोड़ने का फैसला किया है। रैपर रुहान अर्शद का कहना है कि उसके मजहब में संगीत को गलत माना जाता है। लिहाजा वो इस दुनिया को छोड़कर जा रहा है। हालांकि, सोशल मीडिया पर कई फैंस ने उसे दूसरे मुस्लिम कलाकारों के नाम लेकर नसीहत भी दी। उनका कहना था कि रुहान का यह फैसला सरासर गलत है।

रुहान के चैनल पर तकरीबन 23 लाख सब्सक्राइबर्स हैं। 2018 में ‘मिया भाई’ रैप सॉन्ग ने म्यूजजिक इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया था। रैप सॉन्ग ‘मिया भाई’ से यूट्यूब पर अर्शद रातों-रात स्टार बन गए थे। अब तक इस वीडियो को 500 मिलियन लाइक मिल चुके हैं। लेकिन जैसे ही अर्शद ने म्यूजिक इंडस्ट्री छोड़ने का ऐलान किया, उनके फैन्स अलग-अलग प्रतिक्रिया देने लगे। किसी ने फैसले को सराहा तो किसी ने आलोचना की।

अर्शद ने कहा कि उसके मजहब में संगीत पाप है। उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल ‘रुहान अर्शद ऑफिशियल’ पर उन्होंने संगीत की दुनिया को छोड़ने का ऐलान किया। सात मिनट के वीडियो में अर्शद ने कहा कि उन्हेंअपने फैसले पर पूरा विश्वास है। इसकी घोषणा करते वक्त उनके मन में कोई दूसरा ख्याल नहीं आया। वह पूरी तरह से म्यूजिक इंडस्ट्री को छोड़ रहे हैं। आगे म्यूजिक वीडियो नहीं बनाएंगे। मुझे पता है कि इस्लाम में संगीत पाप है, मगर मेरा पैशन था, जिसकी वजह से मैं यहां तक आया। रुहान ने कहा, अब मुझे अल्लाह ताला हलाल तरीके से कोई अलग मुकाम देगा। मुझे अल्लाह पर पूरा भरोसा है। अल्लाह की तरफ से ये एक हिदायत भी हो सकती है। इस्लाम में जो हराम है, उस चीज को दूर रखते हुए मैं आपलोगों से संपर्क में रहूंगा।

हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि वह केवल म्यूजिक इंडस्ट्री छोड़ रहे हैं यूट्यूब पर बने रहेंगे। उन्होंने फैंस को शुक्रिया कहा। आगे किस तरह के कंटेंट पर काम करें, इसके लिए उनसे सलाह भी मांगी। अर्शद ने एक कदम और आगे बढ़ाते हुए खुद को फालो करने वालों से भी ऐसा करने की अपील की। उनका कहना था कि म्यूजिक इंडस्ट्री में काम कर रहे लोग उनके नक्शे कदम पर चलें तो मजहब के लिए अच्छा होगा। अर्शद ने कहा कि जो इस इंडस्ट्री में आ चुके हैं, उन्हें भी संगीत की दुनिया को अलविदा कह देना चाहिए। पाप से उन्हें दूर रहना चाहिए।

पढें मनोरंजन समाचार (Entertainment News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
बड़े पर्दे पर दीपिका-बिपाशा आमने सामने, ‘क्रीचर 3डी’ व ‘फाइंडिंग फैनी’ हुई साथ रिलीज़
अपडेट