ताज़ा खबर
 

माधुरी दीक्षित के दीवाने थे एम.एफ हुसैन, 67 बार देखी थी ‘हम आपके हैं कौन’, इस वजह से छोड़ना पड़ा भारत

MF Hussain Birthday: मशहूर पेंटर एम.एफ हुसैन बॉलीवुड एक्ट्रेस माधुरी दीक्षित को बहुत पसंद करते थे। माधुरी दीक्षित की फिल्म 'हम आपके हैं कौन' को एम. एफ. हुसैन ने 67 बार देखी थी।

MF Hussain, MF Hussain Birthday, Madhuri Dixitमाधुरी दीक्षित के दीवाने थे एम.एफ हुसैन

MF Hussain Birthday: भारत का पिकासो कहे जाने वाले मशहूर पेंटर एम.एफ हुसैन (मकबूल फिदा हुसैन) का आज जन्मदिन है। एम.एफ हुसैन का जन्म 17 सितंबर 1915 को महाराष्ट्र के पंढरपुर में हुआ था। एम.एफ हुसैन एक महान पेंटर होने के साथ ही खूबसूरती के भी काफी दीवाने थे। बॉलीवुड एक्ट्रेस माधुरी दीक्षित को वह बहुत पसंद करते थे। माधुरी दीक्षित की फिल्म ‘हम आपके हैं कौन’ को एम. एफ. हुसैन ने 67 बार देखी थी।

एम.एफ हुसैन माधुरी दीक्षित की फिल्म ‘हम आपके हैं कौन’ को देखकर उनकी खूबसूरती के इतने कायल हो गए थे कि उन्होंने माधुरी को समर्पित पेंटिंग की एक पूरी सीरीज भी बना डाली थी। माधुरी दीक्षित ने काफी टाइम तक फिल्मों से ब्रेक लिआ और कई सालों बाद जब उन्होंने ‘आजा नचले’ के साथ बॉलीवुड में दोबारा एंट्री की तब हुसैन ने पूरे सिनेमा हॉल को ही बुक करवा लिया था। हुसैन उन दिनों दुबई में थे और दोपहर के शो के लिए उन्होंने दुबई के लैम्सी सिनेमा को सिर्फ अपने लिए बुक करवाया था।

एम.एफ हुसैन जब 85 साल के थे, तब उन्होंने माधुरी को लेकर एक फिल्म भी बनाई, जो साल 2000 में रिलीज़ हुई। फिल्म का नाम था गजगामिनी। एम. एफ. हुसैन सिर्फ़ माधुरी दीक्षित के ही दीवाने नहीं थे बल्कि वो तब्बू, विद्या बालन और अमृता राव के भी प्रशंसक थे। तब्बू को लेकर उन्होंने फिल्म ‘ए टेल ऑफ थ्री सीरीज’ बनाई। वहीं विवाह फिल्म में अमृता राव उन्हें इतनी पसंद आई थीं कि उन्होंने उनकी एक खूबसूरत पेंटिंग बना डाली। अमृता के जन्मदिन पर हुसैन ने उन्हें 3 पेंटिंग भेंट में दी, जिसकी कीमत करीब एक करोड़ बताई गई थी।

बता दें कि एम.एफ हुसैन को पद्मश्री, पद्मभूषण, पद्मविभूषण सहित कई राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा गया। उनका काम इतना श्रेष्ठ होने के बावजूद हमेशा विवादों में रहा। उन्होंने भारतीय देवी देवताओं की नग्न तस्वीरें बनाई, जिस कारण उन्हें हिन्दू संगठनों का भारी विरोध झेलना पड़ा और देश भी छोड़ना पड़ गया था।

साल 2005 में हिन्दू कट्टरपंथियों ने उनकी पेंटिंग प्रदर्शनी में तोड़फोड़ की। साल 2006 में इंडिया टुडे मैगज़ीन के कवर पेज पर उनके बनाए भारत माता की एक नग्न तस्वीर की वजह से हुसैन की काफ़ी आलोचना हुई। लगातार मिलती धमकियों, विरोध प्रदर्शनों, मुकदमों के कारण हुसैन ने भारत छोड़ दिया और लंदन के दोहा में रहने लगे। 2010 में उन्हें कतर की नागरिकता भी मिल गई। इस महान पेंटर की मौत 9 जून 2011 को लंदन में हुई थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ये लोग मुझे दलाल मीडिया कहते हैं- लाइव डिबेट में पैनलिस्ट पर भड़क गए अर्नब गोस्वामी, बोले- इसे दो टके का कहना एक रुपये की बेज्जती
2 इकॉनमी गड्ढे में, चीन हमारी जमीन पर कब्जा जमा चुका है बाकी सब चंगा है- बोले अनुराग कश्यप; ट्रोल्स पड़ गए पीछे
3 कंगना ने उर्मिला मातोंडकर को कहा सॉफ़्ट पॉर्न स्टार, बोलीं बीजेपी का टिकट पाना मुश्किल नहीं
अनलॉक 5.0 गाइडलाइन्स
X